सड़क पर गाड़ी ले जाने से पहले इस बात का कर लें ध्यान, नहीं तो कट जाएगा 11 हजार का चालान

Webvarta Desk: सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के आदेश के बाद पूरे देश में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट (High Security Registration Plate) और रंगीन स्टीकर लगवाना अनिवार्य हो गया है। ऐसे में अगर आप दिल्ली की सड़कों में पुरानी नंबर प्लेट के साथ अपनी गाड़ी दौड़ा रहे हैं, तो सावधान हो जाइए। सड़कों पर दौड़ रहे ऐसे वाहनों पर सख्त कार्रवाई शुरू हो गई है।

हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट और कलर स्टीकर जिन गाड़ी पर नहीं लगा है, उनका 11 हजार रुपए तक का चालान किया जा रहा है।

कैसे करें ओवदन

आंकड़ों के मुताबिक, सिर्फ दिल्ली में 26 लाख वाहन ऐसे हैं, जिनमें सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट और रंगीन स्टीकर अभी तक नहीं लगा है, लेकिन अब तक सिर्फ एक लाख लोगों ने इसके लिए आवेदन किया है। यदि आपने भी अभी तक हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट नहीं लगवाई है तो, तुरंत bookmyhsrp.com/index.aspx पर जाकर आवेदन कर सकते हैं।

ऑनलाइन आवेदन के दौरान आरसी और आइडी से जुड़े दस्तावेज अपलोड नहीं करने हैं। सिर्फ वाहन संबंधी जानकारी देनी है। बुकिंग के बाद आवेदक को एसएमएस के जरिये हर चरण का वास्तविक समय का अपडेट मिलता है। आवेदक को एप्वाइंटमेंट की तारीख से कम से कम दो दिन पहले सूचित किया जाता है।

होम डिलीवरी भी दी गई है सुविधा

एचएसआरपी लगवाने के लिए 658 सेंटर बनाए गए हैं। प्रतिदिन 1500 एचएसआरपी और रंगीन स्टीकर की होम डिलीवरी की जा रही है। डीलरों के यहां भी प्रतिदिन की क्षमता बढ़ाकर 3,000 कर दी गई है। वेबसाइट पर आवेदक होम डिलीवरी के लिए भी आवेदन कर सकते हैं। दिल्ली की 517 कॉलोनियों में एचएसआरपी लगवाने की सुविधा पहुंच गई है। अब तक होम डिलीवरी के तहत 10 हजार एचएसआरपी लगाई जा चुकी हैं। होम डिलीवरी में कार के लिए 250 रुपये और दोपहिया वाहन के लिए 125 रुपये के शुल्क का भुगतान करना होता है।

क्यों जरूरी है एचएसआर

एचएसआरपी में क्रोमियम आधारित होलोग्राम प्लेट पर गर्म मुहर लगाई जाती है। प्लेट एल्युमिनियम से बनी होती है। इस प्लेट को लगाने के बाद खोला नहीं जा सकता है, आसानी से तोड़ा नहीं जा सकता है। रात में वाहन के नंबर दूर से दिख जाते हैं। इससे वाहनों से संबंधित जानकारी मिल जाती है।