Farmers Protest: कृषि कानून के खिलाफ प्रदर्शन करने पहुंचे जामिया के छात्र, किसानों ने समर्थन लेने से किया इनकार

Webvarta Desk: दिल्ली की सीमा पर कृषि कानूनों (Farms Law) के खिलाफ किए जा रहे किसान आंदोलन (Farmers Protest) का आज 19वां दिन है। कोरोना महामारी और दिल्ली में बढ़ रही सर्दी के बीच किसान अब भी दिल्ली सीमा पर टिके हुए हैं।

इस बीच कृषि कानूनों (Farms Law) के खिलाफ किसानों के समर्थन (Farmers Protest) के लिए जामिया मिलिया विश्वविद्यालय (Jamia Students Supports Farmers) के छात्र पहुंचे थे। यूपी गेट पर (गाजियाबाद-गाजीपुर बॉर्डर) प्रदर्शन कर रहे किसानों ने जामिया के छात्रों का समर्थन लेने से मना कर दिया।

इस बाबत डीएसपी अंशु जैन ने बताया कि किसानों द्वारा इन छात्रों के समर्थन में शामिल होने को लेकर आपत्ति दर्ज कराई गई, जिसके बाद इन्हें पुलिस ने वापस भेज दिया। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि सरकार किसानों की एकता को तोड़ना चाहती है।

टिकैत ने कहा कि किसान अब कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शनस्थल पर पहुंच रहे हैं। ऐसे में यह एक एतिहासिक अनशन होने वाला है और सुबह के 8 बजे से शाम के 5 बजे तक एकदिवसीय भूख हड़ताल किया जाएगा। जिसमें सभी जिलों के मुख्यालयों का घेराव प्रदर्शन और अनशन किया जाएगा।