Farmers Protest: कृषि कानूनों पर बढ़ी रार, राहुल गांधी को जावड़ेकर ने दी खुली बहस की चुनौती

Webvarta Desk: पिछले 31 दिनों से जारी किसान आंदोलन (Farmers Protest) के बीच केंद्रीय पर्यावरण एवं सूचना मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javdekar) ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को किसानों के मुद्दे पर बहस करने की खुली चुनौती दी है।

जावड़ेकर (Prakash Javdekar) ने कहा कि राहुल गांधी सरकार से कृषि बिल (Farms Law) वापस लेने की मांग कर रहे हैं। मैं उन्हें बहस के लिए खुली चुनौती देता हूं। वो बताएं कि यह कानून किसानों के हित में अच्छा है या बुरा?

प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javdekar) ने कहा कि हाल में पारित 3 कृषि कानूनों (Farms Law) का विरोध कर रहे कुछ किसानों को उनके राजनीतिक आकाओं ने गुमराह किया है और वे चीजों को ऐसे पेश कर रहे हैं कि जैसे किसान उनके साथ हैं।

बहस का बड़ा विषय

कृषि कानूनों के विरोध को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए जावड़ेकर ने कहा, वह पखवाड़े में एक बार ही तो लोगों के सामने आते हैं। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कि कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन देशभर में बहस का बड़ा विषय हो गया है, क्योंकि कुछ किसानों एवं उनके राजनीतिक आकाओं ने दिल्ली और उसके आसपास आंदोलन छेड़ा और यह दिखाया कि यह अखिल भारतीय आंदोलन है और भारत के किसानों के पक्ष में है। लेकिन सभी जगह किसान नये कानूनों से खुश हैं और किसान कल्याण योजनाएं जारी रहेंगी।

उन्होंने कहा कि भारत में किसान कृषि कानूनों एवं अन्य किसानोन्मुख पहल जैसे प्रधानमंत्री किसान योजना से खुश हैं। बीजेपी की तमिलनाडु इकाई द्वारा आयोजित एक सभा में किसानों को संबोधित करते हुए जावड़ेकर ने दावा किया, पंजाब के किसानों को पिछली यूपीए शासन की तुलना में एनडीए के शासनकाल में हर साल न्यूनतम समर्थन मूल्य के रूप में दोगुनी धनराशि मिली है। उनकी आय पहले ही दोगुनी हो गयी है और वे इसे महसूस भी कर रहे हैं। इसपर भी, वे आंदोलन कर रहे हैं, क्योंकि वे गुमराह किये जा रहे हैं।