ED ने की साढ़े 8 घंंटे पूछताछ, अहमद पटेल बोले- PM मोदी और अमित शाह के मेहमान घर आए थे

New Delhi: प्रवर्तन निदेशालय (ED) की एक टीम संदेसारा घोटाला मामले में शनिवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल (Ahmed Patel) से पूछताछ करने के लिए उनके घर पहुंची। इसके बाद अहमद पटेल की प्रतिक्रिया आई है।

उन्होंने (Ahmed Patel) कहा कि ‘ मोदी और अमित शाह जी के मेहमान आज घर आए थे. उन्होंने मुझसे सवाल पूछे, मैंने उनको जवाब दिया और वो चले गए। बता दें कि ईडी के अधिकारियों के मुताबिक तीन सदस्यों की एक टीम 23 मदर टेरेसा क्रीसेंट स्थित अहमद पटेल के घर पहुंची थी।

दरअसल ईडी ने इससे पहले दो बार पटेल (Ahmed Patel) को पूछताछ के लिए बुलाया था लेकिन उनका कहना था कि वह सीनियर सिटीजन हैं और कोविड-19 गाइडलाइन के कारण पूछताछ के लिए नहीं आ सकते हैं। इसके बाद एजेंसी ने अपनी एक टीम को पूछताछ के लिए उनके घर भेजा। इस दौरान पटेल से करीब साढ़े आठ घंटे तक पूछताछ की गई।

अधिकारियों ने बताया कि इस केंद्रीय जांच एजेंसी के कुछ अधिकारियों के साथ तीन सदस्यीय दल मध्य दिल्ली के लुटियंस जोन में 23, मदर टेरेसा क्रीसेंट स्थित पटेल (Ahmed Patel) के आवास पर सुबह करीब साढ़े 11 बजे पहुंचा और पूछताछ के बाद रात करीब नौ बजे उनके आवास से निकला। टीम के सदस्यों के हाथों में फाइलें नजर आयीं। उन्हें कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए मास्क और दस्ताने पहने भी देखा गया।

अधिकारियों ने बताया कि आठ घंटे की पूछताछ के दौरान पटेल का बयान धनशोधन निरोधक कानून (पीएमएलए) के तहत दर्ज किया गया है और संदेसरा बंधुओं के साथ उनके कथित संबंध जांच के दायरे में हैं।

‘बेरोजगारी और चीन को छोड़ विपक्ष से लड़ रहे’

राज्यसभा सांसद अहमद पटेल ने कहा कि देश मे कोरोना चल रहा है, बेरोजगारी है, चीन ने जमीन हड़पी है, उसको छोड़कर ये लोग विपक्ष से लड़ रहे हैं। कानून को कानून का काम करने दो, जिनके घर शीशे के हों, उनको दूसरे के घर पर पत्थर नहीं मारना चाहिए।’

संदेसरा भाइयों ने लगाया करोड़ों का चूना

संदेसरा भाइयों ने भारतीय बैंकों को नीरव मोदी के मुकाबले कहीं ज्यादा चूना लगाया है। यह दावा है प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का। इस केंद्रीय एजेंसी के सूत्रों ने कहा कि जांच में स्टर्लिंग बायोटेक लि. (एसबीएल)/संदेसरा ग्रुप और इसके मुख्य प्रमोटरों, नितिन संदेसरा, चेतन संदेसरा और दीप्ति संदेसरा ने भारतीय बैंकों के साथ लगभग 14,500 करोड़ रुपये का फर्जीवाड़ा किया जबकि नीरव मोदी पर पंजाब नैशनल बैंक को 11,400 करोड़ रुपये का झटका देने का आरोप है।

कांग्रेस के प्रभावशाली नेता हैं अहमद पटेल

गौरतलब है कि अहमद पटेल यूपीए और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव रहे हैं और वह इस पार्टी में सबसे अधिक प्रभावशाली व्यक्तियों में गिने जाते हैं। यह धन शोधन मामला गुजरात की वड़ोदरा स्थित स्टर्लिंग बायोटेक और उसके मुख्य प्रमोटरों-नितिन संदेसरा, चेतन संदेसरा और दीप्ति संदेसरा द्वारा 14,500 करोड़ रुपए की कथित बैंक धोखाधड़ी से जुड़ा है। तीनों फरार हैं। नितिन और चेतन भाई हैं।

जांच एजेंसी ने कहा कि यह पीएनबी धोखाधड़ी से भी बड़ा बैंक घोटाला है। पीएनबी बैंक धोखाधड़ी में नीरव मोदी और मेहुल चौकसी कथित रूप से शामिल हैं। पीएनबी घोटाला करीब 13,400 करोड़ रुपये का है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *