DRDO Built Covid19 Hospital

DRDO का कारनामा, सिर्फ 12 दिन में बनाया 1000 बेड वाला कोविड अस्‍पताल

New Delhi: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (RajNath Singh) ने दिल्ली कैंट में डीआरडीओ की ओर से बनाए गए सरदार वल्लभ भाई पटेल कोविड-19 अस्पताल (DRDO Built Covid19 Hospital) का दौरा किया।

उनके साथ केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन और दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी मौजूद थे। डीआरडीओ के चेयरमैन जी सतीश रेड्डी भी इस दौरान (DRDO Built Covid19 Hospital) मंत्रियों के साथ थे।

राजनाथ ने कहा- 12 दिन में बना अस्पताल

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बताया कि डीआरडीओ, गृह मंत्रालय, टाटा संस इंडस्ट्रीज और कई अन्य संगठनों के सहयोग से इस अस्पताल (DRDO Built Covid19 Hospital) का निर्माण सिर्फ 12 दिन में कराया गया है।

अस्पताल में 250 से अधिक ICU यूनिट्स: राजनाथ

सिंह ने बताया कि WHO की गाइडलाइंस के साथ यहां 250 से अधिक ICU यूनिट्स उपलब्ध कराए गए हैं।

शाह और राजनाथ ने क‍िया डीआरडीओ के अस्पताल का दौरा

डीआरडीओ की ओर से बनाए गए सरदार वल्लभ भाई पटेल कोविड-19 अस्पताल (DRDO Built Covid19 Hospital) का दौरा करते हुए केंद्रीय मंत्री अमित शाह और राजनाथ सिंह। उन्होंने अस्पताल के अधिकारियों से भी बात की। अधिकारियों ने बताया कि सरदार वल्लभ भाई पटेल कोविड-19 अस्पताल में क्या-क्या सुविधाएं मुहैया कराई जा रही हैं।

सभी जरूरी मेडिकल सुविधाओं से लैस है अस्पताल

सरदार वल्लभभाई पटेल कोविड-19 अस्पताल का ऑपरेशन शुरू हो गया है। कोरोना संकट को देखते हुए डीआरडीओ ने 1000 बेड वाले इस अस्थायी अस्पताल का निर्माण केवल 12 दिनों में किया। अस्पताल में सभी मेडिकल सुविधाएं मुहैया कराई गई हैं। ऑक्सीजन, पीपीई किट, वेंटिलेटर, कोरोना टेस्ट सुविधा और दूसरे लैब की सुविधा उपलब्ध है।

कोरोना से जंग में डीआरडीओ की बड़ी भागीदारी

रक्षा मंत्रालय, गृह मंत्रालय, स्वास्थ्य मंत्रालय, टाटा संस, दिल्ली सरकार समेत कई अन्य संगठनों के संयुक्त प्रयास से दिल्ली में अस्पताल तैयार किया गया। इसमें कोरोना मरीजों की देखभाल के लिए सभी सुविधाएं मुहैया कराई गई हैं।

अस्पताल में तैनात है सेना के 600 जवानों की टीम

डीआरडीओ अस्पताल में डॉक्टर लेफ्टिनेंट जनरल माधुरी कानितकर ने बताया कि डॉक्टर, नर्सिंग अधिकारी और पैरामेडिकल स्टाफ समेत पहले महीने में 600 सेना के जवानों की टीम अस्पताल में तैनात की गई है। रोगियों की संख्या के अनुसार इसमें जरूरी बदलाव किया जाएगा।

‘अस्पताल में मरीजों के लिए सभी सुविधाएं फ्री’

DRDO के चेयरमैन जी सतीश रेड्डी ने बताया कि अस्पताल में मरीजों के लिए सभी सुविधाएं निःशुल्क हैं। साथ ही सेना के जवान अपनी सेवाएं 24×7 प्रदान करेंगे। सरदार वल्लभभाई पटेल COVID-19 अस्पताल के निर्माण के लिए एक कचरा डंपिंग ग्राउंड को साफ और समतल किया गया। इसके बाद इसे तैयार किया गया।

‘हर महीने 25000 वेटिंलेटर का कर सकते हैं निर्माण’

जी सतीश रेड्डी ने कहा कि डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गेनाइजेशन (DRDO) कोरोना के खिलाफ लड़ाई में अब तक 70 मेड इन इंडिया प्रोडक्ट्स बनाए हैं। अगर जरूरत पड़ी तो हम हर महीने करीब 25,000 वेंटिलेटर का निर्माण कर सकते हैं। हम उन्हें भी निर्यात करने के लिए तैयार हैं।

केजरीवाल ने कहा- अस्पतालों में बेड की कमी नहीं

इस दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अभी अस्पतालों में बेड की कोई कमी नहीं है, हमारे पास 15,000 से अधिक बेड हैं। जिनमें से सिर्फ 5300 ही इस्तेमाल में है। हालांकि, आईसीयू बेड की कमी है, लेकिन अगर कोरोना मामले बढ़ते हैं तो ये ICU बेड हमारे लिए काफी अहम साबित होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *