Corona New Strain: भारत में मिला कोरोना का नया स्ट्रेन, निपटने के लिए सरकार ने की खास तैयारी

Corona Virus
Webvarta Desk: Corona New Strain in India: भारत में कोरोना के नए स्ट्रेन (Corona New Strain) की दस्तक ने एक बार फिर टेंशन बढ़ा दी है। ब्रिटेन से लौटने वाले छह मरीज म्यूटेंट कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। इन्हें आइसोलेशन में रखा गया है। वहीं इनके संपर्क में आए करीबियों को भी क्वारंटीन कर दिया गया है।

बताया जा रहा है कि कोरोना का नया स्ट्रेन (Corona New Strain) काफी संक्रामक है। इसने कोरोना प्रभावित इलाकों में नए केस में 300 फीसदी तक इजाफा किया है। कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन से खतरा देखते हुए भारत सरकार ने भी कमर कस ली है।

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कोरोना मामलों को देखते हुए फ्रेश गाइडलाइन (Guidelines for Corona New Strain) जारी की है। इसके तहत मौजूदा कोविड-19 गाइडलाइंस को 31 जनवरी 2021 तक बढ़ा दिया है। केंद्र सरकार ने ब्रिटेन में पाए गए कोरोना के नए स्ट्रेन से सावधान रहने के लिए भी कहा है। इसके अलावा अलग-अलग राज्य सरकारें भी कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर सतर्क हो गई हैं।

तेलंगाना ब्रिटेन से लौटे यात्रियों की हो रही जांच

तेलंगाना में ब्रिटेन से आए वरंगल के एक शख्स में कोरोना का नया स्ट्रेन पाया गया है। इसके अलावा मलकाजगिरी में रहने वाला एक शख्स में भी नया स्ट्रेन मिला है। कोरोना वारयस के नए स्वरूप की 9 दिसंबर को पहचान के बाद ब्रिटेन से 1,200 यात्री तेलंगाना पहुंच चुके हैं। वापस लौटे लोगों की जानकारी ली जा रही है और उनकी स्वास्थ्य स्थिति की जांच हो रही है। ब्रिटेन से अब तक तेलंगाना पहुंचे 16 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए।

कर्नाटक में 2 जनवरी तक नाइट कर्फ्यू

कर्नाटक में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन को देखते हुए 2 जनवरी तक नाइट कर्फ्यू के आदेश हैं। इस दौरान रात 10 बजे से सुबह बजे तक गतिविधियों पर पाबंदी रहेगी। यूके से आने वाले सभी यात्रियों को 72 घंटों के अंदर आरटी-पीसीआर टेस्ट कराना होगा। अंतरराष्ट्रीय यात्रियों पर नजर रखी जा रही है हालांकि अंतरराज्यीय यात्रा पर कोई बैन नहीं है।

मुंबई में रोजाना 2200 यात्रियों को किया जा रहा क्वारंटीन

नए स्ट्रेन के खतरे के बीच महाराष्ट्र में नाइट कर्फ्यू लागू हो चुका है। इस बीच मुंबई में प्रशासन और बीएमसी खतरे से निपटने के लिए मुस्तैद है। बीएमसी ने 25 नवंबर से अब तक इंग्लैंड से मुंबई आने वाले लोगों से अनुरोध किया है कि वे शंका दूर करने के लिए अपनी कोरोना जांच जरूर करा लें। रोजाना मिडिल ईस्ट और यूरोप से आने वाले 2200 यात्रियों को क्वारंटीन करने की तैयारी के लिए खास इंतजाम हैं।

जिनके अंदर भी कोरोना के लक्षण मिल रहे हैं, उन्हें सीधे कोविड सेंटर भेजा जा रहा है। बाकी लोगों को होटल या दूसरे क्वारंटीन केंद्रों पर उन्हीं के खर्चे पर भेजा जा रहा है। महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे ने फैसला लिया था कि इन देशों से सोमवार से जो भी मुंबई या महाराष्ट्र आएगा उसे क्वारंटीन पर रहना अनिवार्य है। होटल में जो भी विदेश से आने वाले यात्री क्वारंटीन होंगे, उन्हें ठहरने के पांचवें से सातवें दिन के अंदर RT-PCR टेस्ट कराना होगा।

यूपी में खुफिया तंत्र की मदद से हो रही ट्रेसिंग

यूपी में योगी आदित्यनाथ सरकार ने भी पिछले 15 दिनों में यूके से लौटने वाले यात्रियों को ढूंढकर क्वारंटीन करने के आदेश दिए हैं। फिलहाल यूके से लौटकर आए अब तक 10 लोग यहां संक्रमित पाए गए हैं।

इनमें कोरोना का नया स्ट्रेन पता लगाने के लिए सभी 10 संक्रमित लोगों के सैंपल दिल्ली स्थित इंस्टिट्यूट ऑफ जीनोमिक्स ऐंड इंटीग्रेटिव बायॉलजी (IGIB) भेजे गए हैं। इसके अलावा यहां यूके से लौटने वाले यात्रियों का पता लगाने के लिए खुफिया तंत्र की भी मदद ली जा रही है। जिन लोगों में लक्षण पाए जा रहे हैं उन्हें दो हफ्ते के लिए आइसोलेशन में भेजा जा रहा है।

बेंगलुरु, हैदराबाद और पुणे में मिला नया स्ट्रेन

भारत के अलग-अलग एयरपोर्ट पर 25 नवंबर से 23 दिसंबर के बीच यूके से कुल 33,000 यात्री आए थे। इनमें से 114 संक्रमित पाए गए। इनके सैंपल को जब जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेज गया तो 6 सैंपल में कोरोना का नया स्ट्रेन मिला। इनमें से तीन केस बेंगलुरु, दो हैदराबाद और 1 पुणे में मिला है।