दिल्ली दं’गों पर किताब छापने से अब पीछे हटी ब्लूम्सबरी इंडिया, भड़के कपिल मिश्रा

New Delhi: ब्लूम्सबरी इंडिया (Bloomsbury India) ने इस साल फरवरी के दिल्ली दं’गों (North East Delhi) से जुड़ी एक किताब का प्रकाशन नहीं करने की शनिवार को घोषणा की। प्रकाशन संस्था ने यह घोषणा उनकी जानकारी के बिना किताब के बारे में एक ऑनलाइन कार्यक्रम का आयोजन किये जाने के बाद की।

इस प्रकाशन संस्था (Bloomsbury India) को शुक्रवार को उस समय व्यापक प्रतिक्रिया का सामना करना पड़ा था, जब शनिवार को किताब के लोकार्पण का एक कथित विज्ञापन सामने आया था और इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में भाजपा नेता कपिल मिश्रा (Kapil Mishra) को दिखाया गया था। उधर, किताब प्रकाशित न होने पर बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने अपना गुस्सा जाहिर किया है।

उत्तर पूर्वी दिल्ली (North East Delhi) में 23 फरवरी को हिं’सा भ’ड़क’ने के पहले ऐसे आ’रोप लगाये गये थे कि मिश्रा (Kapil Mishra) समेत कई नेताओं ने भ’ड़का’ऊ भाषण दिये। ब्लूम्सबरी इंडिया (Bloomsbury India) ने एक बयान जारी कर कहा कि वे अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के पक्के हिमायती हैं लेकिन समाज के प्रति अपनी ज़िम्मेदारी को लेकर भी उतने ही सचेत हैं।

ब्लूम्सबरी इंडिया (Bloomsbury India) फरवरी में हुए दिल्ली दं;गों के बारे में इस साल सितंबर में वह ‘दिल्ली रायट्स 2020: द अनटोल्ड स्टोरी’ प्रकाशित करने वाला था। इस किताब की लेखिका सोनाली चितलकर, प्रेमा मल्होत्रा एवं मोनिका अरोड़ा हैं।

गौरतलब है कि नागरिक कानून (CAA-NRC) के समर्थकों और प्रदर्शनकारियों के बीच हुई झ’ड़प के बाद 24 फरवरी को उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई सांप्रदायिक हिं’सा में 53 लोगों की मौ’त हो गई थी और लगभग 200 लोग घा’यल हुए थे।

इन पर भड़के कपिल मिश्रा

बीजेपी नेता (Kapil Mishra) ने दिल्ली दं’गों की किताब प्रकाशित न हो पर नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने कहा एक वीडियो ट्वीट कर कहा है कि, एक किताब से ड’र गए अभिव्यक्ति की आज़ादी के फर्जी ठेकेदार , ये किताब छ्प ना जाएं, ये किताब कोई पढ़ ना लें, तुम्हारा ये डर इस किताब की जीत हैं, तुम्हारा ये डर हमारी सच्चाई की जीत हैं। उन्होंने कहा कि किताब न छप जाए, इसलिए प्रकाशकों के खिलाफ अभियान चलाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *