BJP चीफ जेपी नड्डा का राहुल गांधी पर बड़ा वार- आपने और आपकी मां ने चीन के लोगों से पैसे लिए

New Delhi: पीएम-केयर्स फंड (PM Cares Fund) के मुद्दे पर एक बार फिर बीजेपी और कांग्रेस (BJP Congress) में जंग और तेज हो गई है। बीजेपी चीफ जेपी नड्डा (JP Nadda) ने सिलसिलेवार ट्वीट कर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर जोरदार हमला बोला है।

उन्होंने (JP Nadda) आरोप लगाया कि राहुल (Rahul Gandhi) और उनकी मां सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने चीन के लोगों से पैसे लिए हैं। उन्होंने कहा कि राहुल फर्जी खबरें फैला रहे हैं।

राहुल ने किया था ट्वीट

दरअसल कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने एक न्यूज आइटम को ट्वीट करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) पर हमला किया था।
उन्होंने (Rahul Gandhi) लिखा था, ‘पीएमकेयर्स फॉर राइट टु इम्प्रोबिटी’। यानी प्रधानमंत्री बेईमानों के अधिकार की चिंता करते हैं। इस न्यूज आइटम के मुताबिक प्रधानमंत्री कार्यालय ने पीएमकेयर्स फंड से संबंधित आरटीआई का जवाब देने से इनकार कर दिया।

नड्डा का सिलसिलेवार ट्वीट से राहुल पर पलटवार

बीजेपी अध्यक्ष जे पी नड्डा (JP Nadda) ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा। नड्डा ने ट्वीट किया, ‘जब प्रिंस ऑफ इनकॉम्पीटेंस आर्टिकल्स को पढ़े बिना उन्हें शेयर करते हैं तो ऐसा ही होता है। दूसरी आरटीआई के बारे में जानने के लिए आरटीआई फाइल की गई थी और आपने दुर्भावना से पारदर्शिता पर हमला बता दिया। यह स्वाभाविक है क्योंकि आपका करियर पूरी तरह फर्जी खबरें फैलाने पर टिका हुआ है।’

‘राष्ट्रीय हितों को पहुंचाया नुकसान’

उन्होंने कहा, ‘आपके परिवार की संदिग्ध विरासत में पीएमएनआरएफ में स्थायी जगह हड़पना और फिर इसके पैसों को अपने पारिवारिक ट्रस्टों में भेजना शामिल है। आपने और आपकी मां ने हमारे राष्ट्रीय हितों को नुकसान पहुंचाने के लिए चीन से पैसे लिए। क्या कोई इससे भी नीचे गिर सकता है?’

आप हारे हुए इंसान हैं- नड्डा

उन्होंने कहा कि पूरे देश का प्रधानमंत्री और उनके कामों में पूरा भरोसा है। पीएम केयर्स को जिस तरह का अपार समर्थन मिला है उससे भी यह भरोसा झलकता है। आप हारे हुए इंसान हैं और केवल फर्जी खबरें ही फैला सकते हैं जबकि पूरा देश कोविड-19 के खिलाफ जंग में शरीक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *