Monday, January 25, 2021
Home > National Varta > राहुल को ओबामा ने कहा नर्वस, BJP बोली- देश में बेइज्जती कम होने पर विदेश से करवा लेते हैं

राहुल को ओबामा ने कहा नर्वस, BJP बोली- देश में बेइज्जती कम होने पर विदेश से करवा लेते हैं

New Delhi: अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा (Barack Obama) ने राहुल गांधी को लेकर अपनी किताब में बड़ी बात कही है। ओबामा ने अपनी आत्मकथा ‘ए प्रॉमिस्ड लैंड’ (A promised Land) में कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) का ज़िक्र किया है। ओबामा ने अपनी आत्मकथा ‘ए प्रॉमिस्ड लैंड’ में कांग्रेस नेता राहुल गांधी को नर्वस और कम योग्यता वाला बताया है। किताब में ओबामा ने भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) का भी जिक्र किया है।

बराक ओबामा (Barack Obama) ने अपनी किताब में लिखा है, ‘राहुल गांधी एक ऐसे छात्र हैं जिन्होंने कोर्सवर्क तो किया है और शिक्षक को प्रभावित करने के लिए उत्सुक भी रहे लेकिन इस विषय में महारत हासिल करने के लिए या तो योग्यता नहीं है या जुनून की कमी है।’ उन्होंने राहुल गांधी को ‘नर्वस और बेडौल गुणवत्ता वाला’ भी बताया है।

‘योग्यता या जूनून की कमी’

न्यूयॉर्क टाइम्स ने ओबामा (Barack Obama) के संस्मरण ‘ए प्रॉमिस्ड लैंड’ की समीक्षा की है। इसमें पूर्व राष्ट्रपति ने दुनियाभर के राजनीतिक नेताओं के अलावा अन्य विषयों पर भी बात की है। न्यूयॉर्क टाइम्स में प्रकाशित समीक्षा के मुताबिक, राहुल गांधी के बारे में ओबामा का कहना है कि ‘उनमें एक ऐसे ‘घबराए हुए और अनगढ़’ छात्र के गुण हैं जिसने अपना पूरा पाठ्यक्रम पूरा कर लिया है और वह अपने शिक्षक को प्रभावित करने की चाहत रखता है लेकिन उसमें ‘विषय में महारत हासिल’ करने की योग्यता या फिर जूनून की कमी है।’

सोनिया गांधी का भी किया जिक्र

संस्मरण में ओबामा ने राहुल की मां और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का भी जिक्र किया है। समीक्षा में कहा गया है, ‘हमें चार्ली क्रिस्ट और रहम एमैनुएल जैसे पुरुषों के हैंडसम होने के बारे में बताया जाता है लेकिन महिलाओं के सौंदर्य के बारे में नहीं। सिर्फ एक या दो उदाहरण ही अपवाद हैं जैसे सोनिया गांधी।’

मनमोहन की तारीफ, पुतिन को बताया ‘चालाक बॉस’

समीक्षा में कहा गया है कि अमेरिका के पूर्व रक्षा मंत्री बॉब गेट्स और भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह दोनों में बिल्कुल भावशून्य सच्चाई/ईमानदारी है। इसमें कहा गया है कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ओबामा को शिकागो मशीन चलाने वाले मजबूत, चालाक बॉस की याद दिलाते हैं।

पुतिन के बारे में ओबामा लिखते हैं, ‘शारीरीक रूप से वह साधारण हैं।’ ओबामा का 768 पन्नों का यह संस्मरण 17 नवंबर को बाजार में आने वाला है। अमेरिका के पहले अफ्रीकी-अमेरिकी राष्ट्रपति ओबामा ने अपने कार्यकाल में दो बार 2010 और 2015 में भारत की यात्रा की थी।

BJP नेताओं का राहुल गांधी पर तंज

ओबामा की किताब के जरिए बीजेपी नेताओं ने राहुल गांधी पर तंज करना शुरू कर दिया। बीजेपी के किसी नेता ने कहा- ‘देश में बेइज्जती कम होने लगती है तो विदेश से बेइज्जती करवा लेते हैं’ तो किसी ने कहा- ‘बराक ओबामा अब कह रहे हैं हम तो पहले से ही कहते आ रहे हैं।’ आगे पढ़ें राहुल गांधी को लेकर बीजेपी के नेताओं ने क्या क्या कहा…

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने तंज करते हुए कहा कि अब राहुल गांधी को लेकर किसी और तरह की बहस की जरूरत नहीं है, जब बराक ओबामा जैसे बड़े नेता ने ये टिप्पणी की है। गिरिराज ने तंज कसा कि राहुल को जो सम्मान भारत में मिल रहा था, अब वो ग्लोबल हो गया है।

गिरिराज ने राहुल गांधी पर ट्वीट करते हुए तंज किया। गिरिराज ने कहा- “राहुल गांधी की जैसे ही देश में बेज्जती कम होने लगती है, विदेश से बेज्जती करवा लेते हैं।”

वहां संबित पात्रा के ट्वीट पर किरण रिजिजू ने भी ट्वीट किया। किरण रिजिजू ने अंग्रेजी में लिखा-‘मुझे उम्मीद है कि मेरा हिंदी अनुवाद अच्छा है।’ इसके नीचे हिंदी में लिखा- “राहुल गांधी को लेकर ओबामा की राय: राहुल गांधी में एक तरह की घबराहट और कच्चापन नजर आता है, जैसे किसी छात्र ने अपने शिक्षक को प्रभावित करने के लिए खूब पढ़ाई की हो लेकिन उस विषय पर प्रभुत्व करने का उसमें दिलचस्पी या क्षमता न हो।”

वही बिहार बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर संजय जयसवाल ने कांग्रेस पर करारा प्रहार करते हुए कहा कि कांग्रेस किस इस तरह की पार्टी है, यह बताने की जरूरत नहीं है। क्योंकि कांग्रेस और उनके 50 साल के युवा नेता के विषय में अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा अपनी राय प्रकट कर चुके हैं कि राहुल गांधी में न योग्यता है और ना चुनाव का जुनून।

कांग्रेस में रोष!

बराक ओबामा की टिप्पणी को लेकर कांग्रेस में भी रोष दिख रहा है। कांग्रेस सांसद एम. टैगोर ने बराक ओबामा को ट्विटर पर अनफॉलो कर दिया है। उन्होंने लिखा- “मैं बराक ओबामा को 2009 से फॉलो कर रहा हूं लेकिन अब अनफॉलो कर दिया है। उनके द्वारा किसी भी भारतीय नेता को लेकर की गई टिप्पणी स्वीकार नहीं की जाएगी।”

वहीं कांग्रेस पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह भी कहा कि कांग्रेस किसी एक व्यक्ति की पुस्तक में प्रकट की गई राय पर टिप्पणी नहीं करती। उन्होंने ट्वीट किया, “मैं प्रायोजित एजेंडा चला रहे मीडिया के कुछ अतिउत्साही मित्रों को विनम्रता के साथ यह याद दिलाना चाहूंगा कि हम किसी पुस्तक में एक व्यक्ति द्वारा प्रकट की गई राय पर टिप्पणी नहीं करते। अतीत में भी एक नेता को लोगों एवं एजेंसियों द्वारा ‘मनोरोगी’ और ‘मास्टर डिवाइडर’ कहा गया। हमने इन टिप्पणियों का संज्ञान भी नहीं लिया।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *