कांग्रेस दफ्तरों की मिट्टी भी अयोध्या जाए, मस्जिद गिराने में थी भूमिका: असदुद्दीन ओवैसी

New Delhi: Asaduddin Owaisi PM Modi Ayodhya Ram Mandir Bhumi Pujan Congress: AIMIM चीफ असदुद्दीन औवैसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अयोध्या दौरे पर फिर सवाल खड़े किए हैं। आजतक चैनल पर चर्चा के दौरान ओवैसी ने कहा कि प्रधानमंत्री के अयोध्या दौरे से सही संदेश नहीं जाएगा, इससे निष्पक्षता का संदेश नहीं जाएगा।

उन्होंने कहा कि सरकार को एक रुपया भी किसी धर्म पर नहीं खर्च करना चाहिए। धर्मनिरपेक्षता देश की रूह से जुड़ी है। धर्मनिरपेक्षता कोई करंसी नहीं, जिसे बंद कर दिया जाए। उन्होंने कहा कि बाबरी मस्जिद गिराने में कांग्रेस की भी भूमिका थी। कांग्रेस दफ्तरों से भी राम मंदिर के लिए मिट्टी भेजनी चाहिए।

ओवैसी ने कहा कि संविधान के लिए मैं आवाज उठाता हूं और उठाता रहूंगा। सरकार संविधान की धज्जियां उड़ा रही है। पूजन कार्यक्रम में नरेंद्र मोदी का शामिल होना प्रधानमंत्री की संवैधानिक शपथ का उल्लंघन होगा।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर ओवैसी ने कहा कि मैं इससे सहमत नहीं हूं। हम इस बात को नहीं भूल सकते हैं कि बाबरी 400 सालों तक अयोध्या में खड़ी थी और 1992 में इसे शहीद कर दिया गया।

बता दें कि अयोध्या में 5 अगस्त को राम मंदिर के लिए भूमि पूजन की तारीख तय की गई है। राम मंदिर का भूमि पूजन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। इस कार्यक्रम में करीब 200 लोग शामिल होंगे। इनमें लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, कल्याण सिंह, उमा भारती, साध्वी ऋतंभरा और विनय कटियार जैसे लोग हो सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *