28.1 C
New Delhi
Wednesday, September 28, 2022

Asaduddin Owaisi: ओवैसी ने कहा- अगले चुनाव के बाद देश को कमजोर PM की जरूरत! लेकिन क्यों?

वेबवार्ता: ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने शनिवार को कहा कि अगले लोकसभा चुनाव के बाद भारत को एक कमजोर प्रधानमंत्री और कई दलों के सहयोग से बनी ‘खिचड़ी’ सरकार की जरूरत है, ताकि समाज के कमजोर वर्ग को लाभ हो सके।

एक संवाददाता सम्मेलन में ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने कहा क‍ि एक शक्तिशाली प्रधानमंत्री केवल शक्तिशाली लोगों की मदद करता है। एआईएमआईएम प्रमुख ने आम आदमी पार्टी (AAP) पर हमला करते हुए दावा किया कि वह गुजरात में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (BJP) से अलग नहीं है, क्योंकि उसने बिल्कीस बानो मामले में दोषियों की विवादास्पद रिहाई पर चुप्पी साध रखी है।

AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने कहा कि एआईएमआईएम दिसंबर में होने वाले गुजरात विधानसभा चुनाव में उम्मीदवार उतारेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए उन्‍होंने कहा कि जवाहरलाल नेहरू के बाद सबसे शक्तिशाली प्रधानमंत्री ने बेरोजगारी, मुद्रास्फीति, चीनी घुसपैठ, कॉर्पोरेट कर छूट और उद्योगपतियों के बैंक ऋण के बारे में सवाल पर ‘व्यवस्था’ को दोषी ठहराया।

उन्होंने कहा क‍ि मेरा मानना है कि देश को अब एक कमजोर प्रधानमंत्री की जरूरत है। हमने एक शक्तिशाली प्रधानमंत्री देखा है, अब हमें एक कमजोर प्रधानमंत्री की जरूरत है ताकि वह कमजोरों की मदद कर सके। एक शक्तिशाली प्रधानमंत्री केवल शक्तिशाली की मदद कर रहा है।

‘देश को एक ‘खिचड़ी’ सरकार की जरूरत’

एआईएमआईएम प्रमुख ने कहा कि देश को एक ‘खिचड़ी’ सरकार की जरूरत है । खिचड़ी सरकार से आशय विभिन्न दलों के सहयोग से बनी गठबंधन सरकार से है। ओवैसी ने कहा क‍ि जब कोई कमजोर प्रधानमंत्री बनता है, तो कमजोर को फायदा होता है, लेकिन जब एक मजबूत व्यक्ति प्रधानमंत्री बनता है, तो शक्तिशाली लाभ होता है। यह 2024 (लोकसभा चुनाव) का प्रयास होना चाहिए। देखते हैं क्या होता है।

मुफ्त में सौगात बांटने को लेकर जारी राजनीति बहस पर उन्होंने कहा क‍ि जिसे आप सौगात कहते हैं, वह सभी की ओर से दी जा रही है। प्रधानमंत्री कारपोरेट कर और उद्योगपतियों के ऋण माफ करते हैं। ‘आप’ भी भाजपा से अलग नहीं है। दोनों एक ही बात कहते रहते हैं। ‘आप’ ने बिल्कीस बानो मामले में एक शब्द भी नहीं कहा।

नीतीश कुमार को क्‍या बोले ओवैसी

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को वर्ष 2024 में विपक्ष के प्रधानमंत्री उम्मीदवार के रूप में कुछ लोगों की ओर से पेश किए जाने के बारे में पूछे जाने पर ओवैसी ने कहा कि अगर विपक्ष ने चेहरे पेश करके मोदी के साथ प्रतिस्पर्धा करने की कोशिश की, तो बीजेपी को फायदा होगा।

उन्होंने कहा कि इसके बजाय, हम सभी को सभी लोकसभा सीट पर भाजपा के साथ प्रतिस्पर्धा करने की जरूरत है। नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए एआईएमआईएम प्रमुख ने कहा कि वर्ष 2002 के गुजरात दंगे के समय बिहार के मुख्यमंत्री बीजेपी के सहयोगी थे, उन्होंने भगवा पार्टी के साथ सरकारें बनाईं और अब उन्होंने किसी और से हाथ मिला लिया है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

10,370FansLike
10,000FollowersFollow
1,125FollowersFollow

Latest Articles