Breaking: दिल्ली में एक हफ्ते के पूर्ण लॉकडाउन का ऐलान, जाने पूरी गाइडलाईन विस्तार से

Arvind-kejriwal

Webvarta Desk: देश की राजधानी दिल्ली में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के नए मामलों के बीच सोमवार की रात 10 बजे से आगामी एक हफ्ते यानी 26 अप्रैल की सुबह 5 बजे तक के लिए पूर्ण लॉकडाउन लगा दिया गया है. मीडिया में सूत्रों के हवाले से आ रही खबरों के अनुसार, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को उपराज्यपाल अनिल बैजल के साथ बैठक की है, जिसमें पूर्ण लॉकडाउन लगाने का फैसला किया गया है. हालांकि, दिल्ली सरकार ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए शुक्रवार की रात 10 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक वीकेंड कर्फ्यू लगाया गया था.

दिल्ली में बेड और ऑक्सीजन की भारी कमी: अरविंद केजरीवाल
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उपराज्यपाल के साथ बैठक के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि हमने जनता से कभी भी कोई झूठ नहीं बोला, जिस तरह के हालात हैं हमने हमेशा सही जानकारी दी है. केजरीवाल ने कहा, ‘दिल्ली के अंदर कोरोना की स्थिति काफी गंभीर है, रोजाना ज्यादा केस आने के बाद दिल्ली में बेड और ऑक्सीजन की काफी कमी हो रही है. इसके लिए हमने केंद्र सरकार से मदद मांगी है.’ उन्होंने कहा कि इस समय दिल्ली की स्वास्थ्य व्यवस्था अपनी सीमा पर पहुंच गई है.

पूर्ण लॉकडाउन में इन चीजों पर रहेगी पाबंदी

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान आवश्यक सेवाएं चलती रहेंगी. इस दौरान शादियों के लिए लोगों को ई-पास दिया जाएगा, हालांकि कार्यक्रम में सिर्फ 50 लोगों को शामिल होने की अनुमति दी जाएगी. उन्होंने कहा, ‘आवश्यक सेवाओं के अलावा फूड सर्विस और मेडिकल सर्विस जारी रहेंगी. इसको लेकर जल्द ही एक विस्तृत आदेश जारी किया जाएगा.’

सीएम केजरीवाल की प्रवासी मजदूरों से अपील

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रवासी मजदूरों से दिल्ली छोड़कर ना जाने की अपील की. उन्होंने कहा, ‘पिछली बार जब लॉकडाउन लगाया गया था, बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूर अपने घर जाने लगे थे. मेरी आप सभी से अपील है कि आप दिल्ली छोड़कर ना जाएं. आपका ख्याल राज्य सरकार रखेगी.’

दिल्ली में कोरोना वायरस का कहर जारी

दिल्ली में कोरोना वायरस का कहर जारी है और पिछले 24 घंटे में कुल 25462 नए मामले सामने आए हैं, जबकि इस दौरान 161 लोगों की मौत हुई. स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली में अब तक 8 लाख 53 हजार 460 लोग कोविड-19 से संक्रमित हो चुके हैं और 12121 लोगों ने अपनी जान गंवाई है. दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 20159 लोग ठीक हुए, जबकि कोरोना वायरस के एक्टिव मामलों की संख्या बढ़कर 74 हजार 941 हो गई है.

किस पर मिलेगी राहत

  • गर्भवती महिलाओं को अस्पताल जाने की छूट होगी.
  • अस्पतालों के डॉक्टरों को वैलिड आईडी कार्ड दिखाकर आने-जाने की छूट होगी.
  • मेट्रो और डीटीसी की बसों में 50 फीसदी संख्या के साथ यात्रा करने की छूट होगी.
  • रेलवे स्टेशनों, हवाई अड्डों और बस अड्डों से वैध टिकट दिखाकर जाने-जाने की अनुमति होगी.
  • जीवन रक्षक सेवाएं, आवश्यक सेवाएं, अस्पताल, मेडिकल स्टोर, राशन की दुकानें, दूध के आउटलेट्स पहले की तरह जारी रहेंगे.
  • प्रवासी मजदूरों को दिल्ली से बाहर नहीं जाने की अपील.
  • 50 लोगों की गैदरिंग के साथ शादियों की अनुमति.
  • शादियों के लिए अलग से सरकार पास उपलब्ध कराएगी.

इन पर रहेगी पाबंदी

  • स्कूल-कॉलेज, कोचिंग सेंटर, धार्मिक स्थल बंद रहेंगे.
  • सारे मनोरंजन पार्कों को बंद कर दिया गया है.
  • सिनेमा हॉल बंद रहेंगे, निजी संस्थानों के कार्यालय बंद रहेंगे.
  • किसी भी तरह के सभास्थल पूरी तरह बंद रहेंगे.
  • कोई राजनीतिक रैलियां और सभाएं आयोजित नहीं होंगी.