अखिलेश यादव का PM मोदी पर पलटवार- जो चंदा लेने निकल जाते हैं, वे क्या हैं, चंदाजीवी संगठन सदस्य?

Webvarta Desk: समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के किसान आंदोलन (Farmers Protest) का समर्थन करने वालों को आंदोलनजीवी (AndolanJeevi) बोलने पर पलटवार किया है।

अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने लोकसभा (Loksabha) में अपने भाषण के दौरान पीएम मोदी (PM Narendra Modi) पर निशाना साधते हुए का कि उन्हें क्या कहें जो घर-घर जाकर चंदा ले रहे हैं, क्या ये चंदाजीवी (ChandaJeevi) संगठन के सदस्य नहीं हैं?

राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव के दौरान अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने मंगलवार को लोकसभा में कहा कि ‘देश को आंदोलन की वजह से आजादी मिली। आंदोलनों के चलते कई अधिकार मिले। महिलाओं को वोटिंग का अधिकार भी आंदोलन करने से मिला।’

‘जो चंदा लेने निकल जाते हैं उन्हें क्या कहूं’

सपा अध्यक्ष (Akhilesh Yadav) ने कहा, ‘महात्मा गांधी राष्ट्र पिता बने, क्योंकि उन्होंने अफ्रीका, देश और दुनिया में आंदोलन किए। उन आंदोलनों के बारे में क्या कहा जा रहा है? वे लोग आंदोलनजीवी हैं। मैं उन लोगों को क्या कहूं जो लगातार चंदा लेने को निकल जाते हैं, क्या वे चंदाजीवी संगठन के सदस्य नहीं हैं।’

‘MSP सिर्फ बयानों में है जमीन पर नहीं’

किसान आंदोलन (Farmers Protest) को लेकर अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने आगे कहा, ‘कल संसद में कहा गया कि एमएसपी था, एमएसपी है और एमएसपी रहेगा। यह सिर्फ बयानों में है, जमीन पर नहीं। किसानों को यह मिल रहा होता तो वे दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलन नहीं कर रहे होते।’ अखिलेश ने कहा, ‘मैं आंदोलनकारी किसानों को बधाई देता हूं, उन्होंने देशभर के किसानों को जागरूक किया है।’

‘सरकार कानून वापस क्यों नहीं लेती’

अखिलेश यादव ने कहा, ‘अगर सरकार कहती है कि कानून किसानों के लिए है तो वे इसे वापस क्यों नहीं ले रहे जब किसान इसे स्वीकार नहीं कर रहे? जिन लोगों के लिए इसे बनाया गया, वे इसे नहीं चाहते। सरकार को कौन रोक रहा है? क्या ये आरोप सही नहीं है कि सरकार ने कॉरपोरेट्स के लिए कारपेट बिछाया है और ये कानून लाए हैं।’