सात घंटे चली बैठक बेनतीजा खत्म, अगली मीटिंग 5 दिसंबर को

Source : Google
वेबवार्ता डेस्क: नए कृषि कानून के विरोध में देश की राजधानी दिल्ली में किसानों का प्रदर्शन जारी है। किसान संगठनों की मांग है कि इन कानूनों (Farms Law 2020) को जल्द से जल्द वापस लिया जाए।

इसे लेकर सरकार और किसान संगठनों के बीच विज्ञान भवन (Vigyan Bhawan) में लगभग 7 घंटे से चल रही मैराथन बैठक (Govt. Farmers Meeting) आज भी बेनतीजा ही खत्म हो गई। किसान और सरकार के बीच अगली बैठक 5 दिसंबर (Next Meeting on December 5) यानी शनिवार (Saturday) को होगी।

बैठक के बाद कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Agriculture Minister Narendra Singh Tomar) ने कहा कि नए कानून में यह प्रावधान किया गया है कि किसान अपनी शिकायतें एसडीएम अदालत (SDM Court) में ले जा सकते हैं। किसान यूनियनों (Farmer Unions) को लगता है कि एसडीएम अदालत एक निचली अदालत है और उन्हें अदालत जाने की अनुमति दी जानी चाहिए। सरकार इस मांग पर विचार करेगी।

कृषि मंत्री ने कहा कि पिछली बैठकों (Past Meeting) और आज की बैठक में कुछ बिंदु उठाए गए हैं। किसान यूनियनें मुख्य रूप से इनसे चिंतित हैं। सरकार को कोई अहंकार नहीं है, वह खुले मन के साथ किसानों के साथ चर्चा कर रहा है। किसानों को चिंता है कि नए कानून एपीएमसी (New Law Agricultural Produce Market Committee) को समाप्त कर देंगे।