लखीमपुर की घटना को ‘हिंदू बनाम सिख’ बनाने की हो रही कोशिश, वरुण गांधी ने लगाया आरोप

लखीमपुर की घटना को ‘हिंदू बनाम सिख’ बनाने की हो रही कोशिश, वरुण गांधी ने लगाया आरोप

हाइलाइट्स

  • बीजेपी नेता बोले- राजनीतिक फायदे के लिए राष्ट्रीय एकता को ताक पर नहीं रखना चाहिए
  • प्रदर्शनकारी किसानों को खालिस्तानी बताना देश के लिए खून बहाने वालों का अपमान बताया
  • इस मामले में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा को शनिवार को किया गिरफ्तार

नई दिल्ली
भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद वरूण गांधी ने रविवार को आरोप लगाया कि लखीमपुर खीरी में पिछले दिनों हुई हिंसा की घटना को हिन्दू बनाम सिख बनाए जाने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि यह कोशिश ना सिर्फ ‘‘अनैतिक व गलत धारणा’’ पैदा करने वाली है बल्कि ‘‘खतरनाक’’ भी है।वरूण गांधी किसानों के मुद्दे पर लगातार अपनी राय रख रहे हैं।

फायदे के लिए राष्ट्रीय एकता को ताक पर नहीं रखना चाहिए
लखीमपुर खीरी में पिछले दिनों हुई हिंसा को लेकर भी उन्होंने वीडियो साझा किए थे और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी। इसके बाद भाजपा की नवगठित राष्ट्रीय कार्यसमिति से वरूण को बाहर कर दिया गया था। उन्होंने एक ट्वीट में कहा, ‘लखीमपुर खीरी की घटना को हिन्दू बनाम सिख की लड़ाई बनाने की एक कोशिश हो रही है। यह ना सिर्फ अनैतिक व गलत विमर्श पैदा करने वाली है बल्कि ऐसी कोई रेखा खींचना और उनके घावों को हरा करने का प्रयास, जिसे भरने में पीढ़ियां खप गईं, खतरनाक है। हमें राजनीतिक फायदे के लिए राष्ट्रीय एकता को ताक पर नहीं रखना चाहिए।’

navbharat timesआप प्लीज आ जाइए? 302 के केस में ऐसे ही नोटिस जारी होता है क्या…. सुप्रीम कोर्ट ने UP सरकार को लगाई फटकार
यदि इससे गलत प्रकार की प्रतिक्रिया हो जाए तो
वरूण गांधी ने कहा कि लखीमपुर खीरी में न्याय के लिए संघर्ष गरीब किसानों की निर्दयी हत्या को लेकर है और इसका किसी धर्म विशेष से कोई लेनादेना नहीं है। उन्होंने कहा, ‘प्रदर्शनकारी किसानों को खालिस्तानी बताया जाना ना सिर्फ हमारी सीमाओं की सुरक्षा के लिए लड़ने और खून बहाने वालों देश के महान सपूतों का अपमान है बल्कि राष्ट्रीय एकता के लिए खतरनाक भी है, यदि इससे गलत प्रकार की प्रतिक्रिया हो जाए तो।’

navbharat timesलखीमपुर हिंसा पर RSS के संगठन ने भी दी चेतावनी- निष्पक्ष जांच नहीं हुई तो सरकार को भुगतना होगा

Lakhimpur Violence: केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा इस्तीफा दें, गिरफ्तारी हो…संयुक्त किसान मोर्चा का सरकार को अल्टीमेटम

पूछताछ के बाद आशीष मिश्रा को किया गिरफ्तार
लखीमपुर खीरी जिले के तिकोनिया क्षेत्र में गत रविवार को उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के दौरे का विरोध करने के दौरान हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी। इस मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष समेत कई लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। उत्तर प्रदेश पुलिस के एक विशेष जांच दल (एसआईटी) ने हिंसा के सिलसिले में आशीष मिश्रा को शनिवार को करीब 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया।

varun gandhi lakhimpur kheri