फोन सही से नहीं होता चार्ज तो अपनाएं ये उपाए!

phone is not charged properly : कई बार ऐसा होता है कि हमारा फोन सही से चार्ज नहीं होता। ऐसे में हम पहले ही सोच लेते हैं कि या तो बैटरी खराब हो गई है या फिर फोन के चार्जर में कुछ खराबी है। लेकिन हो सकता है जितना हम सोचते हैं समस्या उतनी बड़ी न हो!

कई बार तो लोगों की यह भी शिकायत होती है कि फोन नया होने के बाद भी सही से चार्ज नहीं होता। फोन के सही तरह से चार्ज न होने की कई वजह हो सकती हैं। साथ इनके समाधान भी काफी आसान हैं जिन्हें आप खुद ठीक कर सकते हैं। आइए नजर डालते हैं ऐसे ही 10 उपाए पर जो फोन के सही चार्ज न होने की समस्या को सुलझा सकते हैं।

यूएसबी की समस्या

फोन खरीदते समय फोन के साथ ही उसकी एक्सेसरीज पर भी ध्यान देना जरुरी होता है। कई बार एक्सेसरीज की क्वालिटी अच्छी नहीं होती है, जिस कारण वह (यूएसबी केबल या पॉवर एडाप्टर) सही से चार्ज नहीं कर पाता। नए फोन में शिकायत होने पर ऐसा हो सकता है व यदि शिकायत पुराने फोन में हो तो हो सकता है कि फोन का यूएसबी स्लॉट खराब हो गया हो।

पुराना चार्जर

कई लोग नया फोन तो लेते हैं लेकिन चार्ज करने के लिए नए की जगह पुराना चार्जर ही इस्तेमाल करते हैं। लेकिन ऐसा करना फोन के लिए ठीक नहीं है। आपका फोन पुराने चार्जर से धीमा ही चार्ज होगा।

धूल

यूएसबी स्लॉट में धूल जमने से भी फोन की चार्जिंग धीमी हो जाती है। इसके लिए आप बस फोन को ब्रश से थोड़ा साफ कर लें, चार्जिंग फास्ट हो जाएगी।

सही चार्जर का करें प्रयोग

बाजार में बिकने वाले अनेक चार्जर जैसे यूनिवर्सल चार्जर सभी मोबाइल को चार्ज करने का दावा पेश करते हैं। ऐसे चार्जर से ना केवल फोन स्लो चार्ज होता हैं वरन ये स्मार्टफोन की बैटरी को खराब भी कर सकते हैं। अतः हमेशा मोबाइल के साथ आए चार्जर से ही अपने फोन को चार्ज करें। केबल बदल दें फोन के केबल का पुराना हो जाना भी एक समस्या हो सकती है। जब केबल पुरानी हो जाती है तो उसमें अधिक समस्याएं आने लगती हैं, ऐसे में आपको केबल बदलने की जरुरत हो सकती है।

अडैपटर बदल कर देखें

अडैपटर के अधिक इस्तेमाल से अडैपटर में खराबी आने की आशंका अधिक होती है। इसके लिए आप अपना अडैपटर बदल कर देखें।

सॉफ्टवेयर अपडेट

फोन के स्लो चार्ज होने का कारण सॉफ्टवेयर भी हो सकता है। जिसका समाधान बस एक अपडेट से हो सकता है।

खराब बैटरी

कई बार स्मार्टफोन निर्माता कंपनियां ही अपने मोबाइल में जो बैटरी देती हैं उनकी क्वालिटी अच्छी नहीं होती। इसके अनेक उदाहरण सामने आए हैं जबकि कंपनियों ने यह माना है कि हमारी बैटरी की गुणवत्ता अच्छी नहीं है। ऐसी बैटरी को बदल दें। इसके साथ-साथ जैसे-जैसे बैटरी पुरानी होती जाती है चार्जिंग में लगने वाला समय बढ़ता जाता है।

कमजोर पॉवर सोर्स

कम्प्यूटर से मोबाइल चार्ज करने पर काफी देर से चार्जिंग होती है। ऐसे में, कम बिजली सप्लाई के कारण यूएसबी केबल व पोर्ट भी खराब हो सकता है। यदि आप वायरलैस चार्जिंग इस्तेमाल करते हैं तो भी प्लग चार्जिंग की तुलना में यह आपका डिवाइस काफी स्लो चार्ज करेगा।

बैकग्राउंड ऐप्स करें बंद

मोबाइल के बैकग्राउंड में हमेशा अनेक ऐप्स जैसे ईमेल, फेसबुक, व्हाट्सऐप आदि हमेशा चलते रहते हैं। इससे मोबाइल चार्जिंग के समय स्लो हो जाता है। इसलिए जब भी स्मार्टफोन चार्ज करें तो इन ऐप्स को सेटिंग के ऐप्स आॅप्शन में जाकर बंद कर दें।