23.1 C
New Delhi
Thursday, February 2, 2023

WHO ने पाकिस्तान को लेकर जताई चिंता, नए खतरे को लेकर चेतावनी की जारी

इस्लामाबाद
विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने बाढ़ प्रभावित पाकिस्तान में एक और आपदा को लेकर चिंता व्यक्त की है। WHO ने पाकिस्तान में बाढ़ के बाद पानी से फैलने वाली बीमारियों को लेकर चेतावनी जारी की है। क्योंकि पानी से कई खतरनाक बीमारियों के फैलने की आशंका है, जो जानलेवा साबित हो सकती है। उन्होंने कहा है कि अगर बीमारी फैलती है तो हजारों लोग संक्रमित होंगे।

बाढ़ से पहुंच रहा नुकसान
WHO ने सिंध प्रांत का जिक्र कहते हुए कहा कि इस प्रांत के कई गांवों, कस्बों और शहरों में अभी भी बाढ़ का प्रभाव है, जिससे काफी नुकसान हो रहा है। उन्होंने कहा कि सिंध में पानी का बहाव अभी भी जारी है और उसके रास्ते आने वाले हर चीज नष्ट हो रही है। WHO ने लोगों की जान बचाने और उन्हें बीमारी से दूर रखने के लिए पाकिस्तान की मदद करने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि स्थिति अभी ऐसी हो गई है, जैसे बाढ़ से प्रभावित पाकिस्तान नई बीमारी और मौतों का इंतजार कर रहा हो।

बीमारियों के फैलने की आशंका
WHO के महानिदेशक टेड्रोस अदनोम घेब्येयियस ने कहा, ‘पाकिस्तान में बाढ़ प्रभावित इलाकों में पानी दूषित हो गया है। इन इलाकों में हैजा, मलेरिया, डेंगू और डायरिया के मामलों में वृद्धि हो रही है।’ उन्होंने कहा कि यहां के स्वास्थ्य केंद्रों में पानी घूस चुका है, जिससे वहां काम करना मुश्किल है और कार्य बाधित हो गया है। बाढ़ से जान बचाने के लिए लोग अपने घरों से दूर चले गए हैं। जिससे उनकी पहुंच स्वास्थ्य केंद्रों से दूर हो गई है। इससे पहले से बीमार लोगों का सही टाइम पर इलाज नहीं हो रहा है। इस बीच जो बच्चे जन्म ले रहे हैं, उसके लिए असुरक्षा का माहौल बना रहा है।

WHO ने शुरू की पहल
घेब्येयियस ने कहा, ‘हम स्वास्थ्य सुविधा और मेडिकल कैंप की व्यवस्था कर रहे हैं। हमने पहले ही पानी को साफ करने के लिए मशीन दिए हैं।’ उन्होंने कहा कि WHO तुरंत 10 मिलियन डालर जारी कर रहा है, ताकि पाकिस्तान में इमरजेंसी सेवा बहाल हो सके। बता दें कि पाकिस्तान में बाढ़ से कम से कम 1545 लोगों की मौत हुई है, जिसमें 500 से अधिक बच्चे और महिलाएं शामिल हैं।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

10,370FansLike
10,000FollowersFollow
1,114FollowersFollow

Latest Articles