आतंकवाद के खिलाफ PM मोदी ने कसी कमर, फ्रांस ने भी किया भारत का समर्थन

Webvarta Desk: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने सोमवार को फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों (Emmanuel Macron) के साथ टेलीफोन पर बातचीत की। इस दौरान पीएम मोदी ने फ्रांस में हुए आतंकी घटनाओं के प्रति अपनी संवेदना भी व्यक्त की।

PM मोदी (PM Narendra Modi) ने आतं’कवाद, उग्रवाद और कट्टरपंथ के खिलाफ लड़ाई में फ्रांस के प्रति भारत के पूर्ण समर्थन को भी दोहराया। बता दें कि पेरिस में हुए आ’तंकी हम’ले के समय भी भारत ने फ्रांस के प्रति अपने खुले समर्थन का ऐलान किया था।

आपसी संबंधों को मजबूत करने पर हुई बातचीत

प्रधानमंत्री कार्यालय ने बताया कि दोनों नेताओं के बीच आपसी हित के अन्य द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर चर्चा हुई। इसके अलावा कोरोना वायरस वैक्सीन, कोरोनाकाल के बाद आर्थिक सुधार, इंडो पैसिफिक क्षेत्र में सहयोग, समुद्री सुरक्षा, रक्षा सहयोग और जलवायु परिवर्तन में सुधार लाने के मुद्दे पर भी चर्चा हुई।

पीएम मोदी ने मैक्रों को दिया न्यौता

पीएम मोदी और मैक्रों ने भारत-फ्रांस रणनीतिक साझेदारी के और मजबूत होने पर संतोष व्यक्त किया। इसके अलावा कोरोना काल में भी एक साथ काम करने को लेकर सहमति बनी है। पीएम मोदी ने कोरोना वायरस के संक्रमण को खत्म होने के बाद राष्ट्र्रपति मैक्रों के भारत आने का न्योता भी दिया है।

भारत का बड़ा रक्षा साझीदार बना फ्रांस

फ्रांस लंबे समय से भारत का बड़ा रक्षा साझीदार है। हाल में ही भारत ने फ्रांस से 36 राफेल विमानों की डील फाइनल की थी। जिसमें के कुछ विमान भारत पहुंच भी गए हैं। जबकि, 2021 के अंत तक सभी विमानों के भारतीय वायुसेना में शामिल होने की उम्मीद है। एक दिन पहले ही फ्रांस की सरकार ने अपने मिड एयर रिफ्यूलर एयरक्राफ्ट को भारत को देने की इच्छा जताई थी। इसके अलावा मिराज-2000 विमान, स्कॉर्पियन क्लास की पनडुब्बियों को भी फ्रांस से ही खरीदा गया है।