US प्रेसिडेंट ट्रंप के सोशल मीडिया अकाउंट्स हुआ बैन, डोनाल्ड बोले- ‘अपना प्लैटफॉर्म लाएंगे’

Webvarta Desk: US President Trump Social Media banned: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald trump) का निजी ट्विटर अकाउंड स्थायी रूप से बंद कर दिया गया। इसके बाद उन्होंने देश के राष्ट्रपति के आधिकारिक ट्विटर (Twitter) हैंडल से ट्वीट कर माइक्रोब्लॉगिंग साइट पर जमकर हमला बोला।

उन्होंने (Donald trump) कंपनी के खिलाफ डेमोक्रैट्स और लेफ्ट खेमे के साथ मिलकर फ्री स्पीच को खत्म करने की कोशिश का आरोप लगाया। ट्रंप ने यह भी कहा कि वह जल्द ही अपना नया प्लैटफॉर्म तैयार करने के बारे में सोच रहे हैं। हालांकि, ये सभी ट्वीट कुछ ही मिनटों में डिलीट कर दिए गए।

‘ट्विटर ने बंद किया अकाउंट’

बीते बुधवार देश की संसद के बाहर हुई हिंसा के बाद ट्विटर ने ट्रंप (Donald trump) का अकाउंट स्थायी रूप से बंद कर दिया था। कंपनी ने साफ कहा था कि और हिंसा की आशंका को देखते हुए ट्रंप का अकाउंट बंद कर दिया गया है। इसके बाद ट्रंप ने देश के राष्ट्रपति के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर ट्विटर पर हमला बोला।

उन्होंने लिखा, ‘मैं लंबे वक्त से कहता आया हूं कि ट्विटर फ्री स्पीच को बैन कर रहा है और आज उन्होंने डेमोक्रैट और कट्टर लेफ्ट के साथ मिलकर मुझे चुप करने के लिए मेरे अकाउंट को बंद कर दिया।’ उनके फेसबुक और इंस्टाग्राम अकाउंट पर पहले ही दो हफ्तों या अनिश्चितकाल के लिए प्रतिबंध लग चुका है।

‘अपना प्लैटफॉर्म बनाने पर विचार’

ट्रंप ने आगे लिखा ट्विटर प्राइवेट कंपनी होगी लेकिन बिना सरकार के धारा 230 के तोहफे के वह ज्यादा वक्त तक टिक नहीं सकेगी। ट्रंप का कहना है कि उन्हें पहले ही पता था कि यह होगा और वह पहले से दूसरी साइट्स से बात कर रहे हैं और जल्द ही बड़ा ऐलान किया जाएगा। निकट भविष्य में अपना खुद का प्लैटफॉर्म बनाने की संभावनाओं को देखा जा रहा है।

हिंसा में 4 लोगों की मौत

आपको बता दें कि बुधवार को हजारों की संख्या में ट्रंप समर्थकों ने देश की संसद कैपिटल पर हमला बोल दिया था। हिंसा के दौरान चार लोगों की मौत हो गई थी। इस घटना की दुनियाभर में निंदा हुई थी और विश्व नेताओं ने दुख जताया था। बाद में ट्रंप ने यूएस कैपिटल (संसद) पर हमला करने वाले दंगाइयों को घर जाने की अपील करने से पहले ‘आई लव यू’ कहा था। इतना ही नहीं, उन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में धोखाधड़ी के अपने झूठे दावे भी दोहराए थे।