लद्दाख में तनाव के बीच ग्लोबल टाइम्स ने दी भारत को ‘धमकी’, ‘अगर युद्ध हुआ तो करना पड़ेगा हार का सामना’

लद्दाख में तनाव के बीच ग्लोबल टाइम्स ने दी भारत को 'धमकी', 'अगर युद्ध हुआ तो करना पड़ेगा हार का सामना'

photo 86940147

पेइचिंग
भारत और चीन के बीच सीमा पर तनावपूर्ण स्थिति बनी हुई है। 13वें दौर की बातचीत के बाद भी मई 2020 जैसी स्थिति बहाल नहीं हो सकी। इसी बीच चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने भारत को ‘धमकी’ देते हुए कहा है कि अगर युद्ध होता है तो नई दिल्ली की हार होगी। दोनों पक्षों की बातचीत के बाद भारतीय सेना ने सोमवार को कहा कि उसकी तरफ से दिए गए ‘सकारात्मक सुझावों’ पर चीनी सेना सहमत नहीं हुई।

ग्लोबल टाइम्स में प्रकाशित एक संपादकीय में कहा गया, ‘नई दिल्ली एक बात स्पष्ट रूप से समझ ले। जिस तरीके से वह सीमा को हासिल करना चाहती है उस तरीके से उसे वह नहीं मिलेगी। अगर युद्ध शुरू होता है तो निश्चित रूप से उसे हार का सामना करना पड़ेगा।’ इसमें कहा गया, ‘चीन और भारत के बीच सीमा विवाद अभी भी बरकरार है। इसका मूल कारण भारतीय पक्ष की ओर से वार्ता में एक सही रवैये की कमी है। वास्तविक स्थिति के इतर भारत की मांगें अव्यावहारिक होती हैं।’

दोनों देशों के बीच आठ घंटे लंबी बातचीतदोनों देशों के बीच 13वें दौर की बातचीत पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर चूशुल-मोल्दो सीमा क्षेत्र में चीन की तरफ रविवार को हुई। 14वीं कॉर्प्स कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल पीजीके मेनन और साउथ शिनजियांग मिलिट्री डिस्ट्रिक चीफ मेजर जनरल लियु लिन की अगुआई में दोनों देशों के बीच करीब साढ़े आठ घंटे तक बातचीत हुई।

चीनी सैनिकों ने रोके रास्तेदेपसॉन्ग बुल्ज एरिया में कई जगहों पर भारत और चीन के सैनिक अड़े हुए हैं। पीएलए भारतीय सैनिकों को पिछले साल से ही अपने पारंपरिक पेट्रोलिंग पॉइंट्स पीपी-10, 11, 11ए, 12 और 13 के साथ-साथ देमचॉक सेक्टर में ट्रैक जंक्शन चार्डिंग निंगलुंग नाला (CNN) तक जाने नहीं दे रही है। चीनी सैनिकों ने इन इलाकों के रास्ते रोक रखे हैं।