केजरीवाल को मिला दिल्ली वालों का साथ, सोशल मीडिया पर छाया 1 साल का ‘मफलरमैन’

New Delhi: दिल्ली के व‍िधानसभा चुनाव पर‍िणाम के रुझानों में आम आदमी पार्टी की सरकार बन रही है। AAP की सरकार बनने से सोशल मीड‍िया पर र‍िएक्शनों की बाढ़ सी आ गई है। इस बीच सोशल मीडिया पर केजरीवाल के समर्थनकारी सरकार बनने की बधाईयां दे रहे हैं और खुशियां मना रहे हैं। पर इन सारी पोस्ट के बीच ट्विटर पर एक छोटे से बच्चे का फोटो खूब तेजी से वायरल हो रहा है जिसे लोग नन्हा केजरीवाल (Child Kejriwal) बता रहे हैं। इस नन्हें बच्चे ने आंख में चश्मा लगाया हुआ है और गले में मफलर लपेटा है।

नन्हा केजरीवाल

यह ‘नन्हा केजरीवाल’ (Child Kejriwal) अव्यान तोमर है। दिल्ली के मयूर विहार में रहने वाले राहुल तोमर के बेटे अव्यान तोमर की उम्र एक साल है। अव्यान अपनी पिता और माता मीनाक्षी तोमर के साथ सुबह सुबह अरविंद केजरीवाल के घर पहुंचे। इसके बाद पूरे परिवार के साथ नन्हा ‘केजरीवाल’ (Child Kejriwal) अव्यान आम आदमी पार्टी ऑफिस पहुंच गए। अव्यान के साथ उसकी 9 साल की बहन भी आम आदमी पार्टी दफ़्तर आईं।

आप को मिला जमात ए सिद्दीकी आफ़ इंडिया का साथ

खास बात तो ये है कि, इससे पहले अव्यान की बहन भी नन्हीं केजरीवाल बनकर सुर्खियां बटोर चुकी हैं। साल 2015 के समय अरविंद केजरीवाल की पार्टी में कुमार विश्वास भी थे और अव्यान की बहन ने उनके साथ फोटो भी ली थी। अव्यान के पापा व्यापारी हैं और अरविंद केजरीवाल के बहुत बड़े फैन हैं।

दिल्ली चुनाव : आप ने जारी की प्रत्‍याशियों की लिस्‍ट, केजरीवाल नई दिल्‍ली से लड़ेंगे

मफलरमैन की फोटो वायरल

जब ये मफलरमैन केजरीवाल के घर पर पहुंचा तो फोटोग्राफर्स ने फटाफट उसकी तस्वीरें खींच लीं. ये फोटो देखते ही देखते फेसबुक और ट्विटर पर वायरल होने लगी. ये मफलरमैन खुद आम आदमी पार्टी को भी इतना पसंद आ गया कि उन्होंने अपने आधिकारिक फेसबुक पेज पर जब ये तस्वीर डाली तो 50 मिनट में ही इसके हजारों शेयर हो गए. बड़ी संख्या में लोगों ने इस पर कमेंट किया. 21 हजार से ज्यादा लोगों ने इस पर लाइक का बटन दबाया.

कहां थे तब असली मफलरमैन

इस मफलरमैन को तमाम लोगों ने दिल्ली के बेहतर स्कूलों और पढाई से जोड़ा तो कुछ ने इसे केजरीवाल सरकार के अच्छे कामों से. जब ये मफलरमैन केजरीवाल के घर के सामने प्रगट हुआ तो असली मफलरमैन चुनावों की काउंटिंग के बीच आम आदमी पार्टी के कार्यालय के लिए निकल चुके थे. गौरतलब है कि केजरीवाल 2015 से सिविल लाइंस के इस चार कमरे के बंगले में रह रहे हैं. बताते हैं कि कभी ये मकान प्रसिद्ध लेखक सलमान रुश्दी का था.

बात अगर दिल्ली विधानसभा चुनावों के नतीजे की करें तो, दिल्ली में एक बार फिर से आम आदमी पार्टी आ गई है और पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाने में कामयाब हुई है। वहीं बीजेपी इस समय आप पार्टी से कोसों दूर है जबकि कांग्रेस साल 2015 की तरह इस बार भी अपना खाता नहीं खोल पाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *