उद्धव ठाकरे के ‘नमक हराम’ कहने पर भड़की कंगना रनौत, बोली- शर्म कीजिए CM जी

New Delhi: ऐक्ट्रेस कंगना रनौत और महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे (Uddav Thackrey Vs Kangana Ranaut) के बीच जुबानी जंग एक बार फिर तेज हो गई है। अपनी दशहरे की रैली में उद्धव ठाकरे ने बिना कंगना का नाम लिए उन्हें ‘नमक हराम’ बोल दिया था। इसके बाद कंगना ने सीधे नाम लेकर उद्धव ठाकरे के खिलाफ ट्वीट किए थे।

कंगना (Kangana Ranaut) का गुस्सा इतने से ही शांत नहीं हुआ तो उन्होंने अपना एक वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया है। इस वीडियो में कंगना उद्धव ठाकरे को खरी-खरी बातें सुना रही हैं।

उद्धव को दी कंगना ने नसीहत

कंगना (Kangana Ranaut) ने अपने ट्विटर अकाउंट पर यह वीडियो शेयर करते हुए उद्धव ठाकरे (Uddav Thackrey) के कल के भाषण की आलोचना की है। उन्होंने कहा है कि रविवार के भाषण में उद्धव ठाकरे ने काफी अपश;ब्दों का प्रयोग किया था और कथित नारीवादियों ने इसका विरोध नहीं किया।

कंगना (Kangana Ranaut) ने उद्धव ठाकरे (Uddav Thackrey) को नसीहत देते हुए यह भी कहा है कि वह याद रखें कि सत्ता आती-जाती रहती है लेकिन आदमी का सम्मान एक बार चला जाए तो वापस नहीं आता है। देखें, कंगना का पूरा वीडियो:

उद्दव ने क्या कहा था?

रविवार को दशहरा रैली को संबोधित करते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा महाराष्ट्र सरकार, मुंबई पुलिस, उनके परिवार यहां तक कि आदित्य ठाकरे पर काफी कीचड़ उछाला गया है।

उन्होंने अपने संबोधन में कंगना के ट्वीट का भी जिक्र किया जिसमें उन्होंने मुंबई की तुलना पीओके से की थी। उद्धव ने आगे कहा, ‘किसी ने कहा था कि मुंबई पीओके की तरह है।।। ये लोग मुंबई में काम करने आते हैं और फिर शहर का नाम खराब करते हैं। यह एक तरह से नमक हरामी है।’

संजय राउत ने बोल दिया था ‘हरामखोर’

उद्धव ठाकरे (Uddav Thackrey Vs Kangana) ने आगे कहा, ‘एक ऐसी कहानी बनाई गई है जैसे मुंबई और पूरा महाराष्ट्र एक ड्रग हैवेन है और यहां पर सब ड्रग अडिक्ट हैं। मुंबई और महाराष्ट्र की बेइज्जती करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा।’ बता दें कि उद्धव ठाकरे से पहले शिवसेना नेता और सांसद संजय राउत ने भी अपने एक बयान में कंगना रनौत को ‘हरामखोर’ बोल दिया था।

कंगना ने भी किया पलटवार

उद्धव (Uddav Thackrey Vs Kangana) के इस बयान के बाद कंगना रनौत ने सोमवार को ट्वीट कर पलटवार किया है। कंगना ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘ठीक जैसे हिमालय की खूबसूरती हर भारतीय की है, ठीक वैसे ही मुंबई जो मौके देती है वह हम सभी से संबंधित है। ये दोनों ही मेरे घर हैं। उद्धव ठाकरे आप हमसे हमारे लोकतांत्रिक अधिकार छीनने और हमें बांटने की कोशिश मत कीजिए। आपके गंदे भाषण आपकी नाकाबिलियत का अश्लील प्रदर्शन हैं।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *