कंगना रनौत के समर्थन में सूरत के कपड़ा व्यवसायी, मार्केट में उतारी ‘मणिकर्णिका’ प्रिंट की साड़ी

New Delhi: हाल ही में मुंबई के पाली हिल में स्थित बॉलिवुड ऐक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के ऑफिस को अ’वैध तरीके से बना हुआ बताकर BMC ने वहां तो’ड़फो’ड़ की थी। इसके बाद ऐक्ट्रेस को काफी लोगों का समर्थन मिल रहा है। इसी बीच सूरत के एक कपड़ा व्यवसायी ने तो अलग तरह कंगना का समर्थन किया है। व्यवसायी ने उनके समर्थन में ‘मणिकर्णिका’ प्रिंट वाली साड़ी (Manikarnika Printed Saree) मार्केट में उतार दी है।
साड़ी की कीमत 1000 रुपये से शुरू

गुजरात में सूरत के कपड़ा व्यवसायी रजत डावर ने कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के प्रति अपना समर्थन व्यक्त करते हुए उन पर आधारित एक साड़ी (Manikarnika Printed Saree) बनाई है। उन्होंने कहा कि हमने यह साड़ी कल लॉन्च की और पहले की कई ऑर्डर मिल चुके हैं। इस साड़ी की कीमत 1000 रुपये से शुरू होती है।

व्यवसायी बोले- कंगना के साथ गलत हुआ

व्यवसायी ने आगे कहा कि कंगना किसी चीज को समर्थन करने के लिए अपनी आवाज उठाना चाहती थी लेकिन उनकी आवाज दब गई और उनके दफ्तर में तोड़-फोड़ की गई। उनके साथ जो हुआ वह गलत है। इसलिए हम कंगना का समर्थन करना चाहते थे।

कंगना ने महाराष्ट्र के गवर्नर से की मुलाकात

कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने रविवार को महाराष्ट्र के गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी (Bhagat Singh Koshyari) से मुलाकात की। कंगना रनौत ने कहा ‘मैंने महाराष्ट्र के गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की है। मेरे साथ जो भी अन्याय हुआ है मैंने उसके बारे में बात की। वह यहां पर हमारे सबके अभिभावक हैं। जिस तरह से मेरे साथ जो सलूक हुआ है उसे बारे में बात हुई है। मैं उम्मीद करती हूं कि मुझे न्याय मिलेगा ताकि युवा लड़कियों सहित सभी नागरिकों का विश्वास सिस्टम में बना रहेगा। मैं सौभाग्यशाली हूं कि राज्यपाल ने एक बेटी की तरह मेरी बात सुनी।’

कंगना को मिली है Y कैटिगरी की सुरक्षा

कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने मुंबई पुलिस को बयान दिया था और इसके बाद उन्हें महानगरी में एंट्री को लेकर धम’कियां मिलने लगी थीं। जिसके बाद शिवसेना से कंगना की जुबानी जं’ग बढ़ती चली गई। कंगना के खिलाफ शिवसेना की बयानबाजी और ती’खे तेवर को देखते हुए कंगना के पिता ने बेटी के लिए हिमाचल प्रदेश सरकार से पुलिस सुरक्षा की मांग की थी, जिसके बाद उन्हें Y कैटिगरी की सुरक्षा मुहैया कराई गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *