आदित्य ठाकरे के बहाने कंगना रनौत ने उद्धव को घेरा- ‘देखते हैं, कौन किसे फिक्स करता है’

New Delhi: बॉलिवुड ऐक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) मुंबई के आने के 6 दिन बाद वापस अपने घर मनाली लौट गई हैं। लेकिन महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Govt) और उनके बीच जुबानी जंग बरकरार है। अब कंगना रनौत ने महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) और उनके बेटे आदित्य ठाकरे (Aditya Thackeray) पर नि’शा’ना साधा है।
कंगना ने कहा- देखते हैं कि कौन किसे फिक्स करता है

कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने सोमवार को अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, ‘महाराष्ट्र के सीएम की मूल समस्या यह है कि मैंने फिल्म मा’फिया, सुशांत सिंह राजपूत के ह’त्या’रों और उसके ड्र’ग रैकेट का पर्दाफाश किया, जो उनके प्यारे बेटे आदित्य ठाकरे के साथ हैं। यह मेरा बड़ा अप’राध है, इसलिए अब वे मुझे फिक्स करना चाहते हैं, ठीक है, देखते हैं कि कौन किसे फिक्स करता है।’

कंगना बोलीं- भारी मन से रवाना हो रही हूं

इससे पहले सोमवार को कंगना रनौत (Kangana Ranaut) अपने गृह राज्य हिमाचल प्रदेश के लिए निकल गईं। उन्होंने ट्वीट किया, ‘भारी मन से मुंबई से रवाना हो रही हूं। इतने दिनों में जिस तरह से मुझे ड’राया-धम’काया गया, मेरे दफ्तर को तो’ड़ने के बाद बाद मेरे घर को भी नि’शा’ना बनाया गया, जिस तरह से मेरे इर्द-गिर्द श’स्त्र’बल वाली सिक्यॉरिटी तैनात की गई, मुझे कहना ही होगा कि POK से तुलना वाला मेरा बयान कुछ गलत नहीं।’

कंगना रनौत ने महाराष्ट्र के गवर्नर से की मुलाकात

कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने रविवार को महाराष्ट्र के गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की थी। कंगना रनौत ने कहा ‘मैंने महाराष्ट्र के गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की है। मेरे साथ जो भी अन्याय हुआ है मैंने उसके बारे में बात की। वह यहां पर हमारे सबके अभिभावक हैं। जिस तरह से मेरे साथ जो सलूक हुआ है उसे बारे में बात हुई है। मैं उम्मीद करती हूं कि मुझे न्याय मिलेगा ताकि युवा लड़कियों सहित सभी नागरिकों का विश्वास सिस्टम में बना रहेगा। मैं सौभाग्यशाली हूं कि राज्यपाल ने एक बेटी की तरह मेरी बात सुनी।’

कंगना रनौत को मिली Y कैटिगरी की सुरक्षा

कंगना रनौत ने मुंबई पुलिस को बयान दिया था और इसके बाद उन्हें महानगरी में एंट्री को लेकर धम’कियां मिलने लगी थीं। जिसके बाद शिवसेना से कंगना की जुबानी जं’ग बढ़ती चली गई। कंगना के खिलाफ शिवसेना की बयानबाजी और तीखे तेवर को देखते हुए कंगना के पिता ने बेटी के लिए हिमाचल प्रदेश सरकार से पुलिस सुरक्षा की मांग की थी, जिसके बाद उन्हें Y कैटिगरी की सुरक्षा मुहैया कराई गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *