प्रवर्तन निदेशालय ने सुशांत केस में दर्ज किया मामला, मनी लॉन्ड्रिंग की हो सकती है जांच

New Delhi: बॉलिवुड ऐक्टर सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के मामले में पिछले काफी दिनों से सीबीआई जांच की मांग चल रही है। हालांकि मामले में सीबीआई जांच तो नहीं हो सकी है लेकिन प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मामला दर्ज कर लिया है।

प्रवर्तन निदेशालय ने यह कदम सुशांत के पिता केके सिंह की पटना में दर्ज कराई गई उस शिकायत के आधार पर लिया है जिसमें उन्होंने दावा किया था कि सुशांत के अकाउंट में 17 करोड़ रुपये थे जिसमें से 15 करोड़ रुपये का ट्रांजैक्शन हुआ है।

मनी लॉन्ड्रिंग के ऐंगल से होगी जांच?

बता दें कि सुशांत की आत्महत्या के मामले में एक दिन पहले ही प्रवर्तन निदेशालय ने पटना पुलिस से केके सिंह की एफआईआर की एक कॉपी मांगी थी। ईडी धन शोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) के तहत संभावित जांच पर गौर कर रहा है। निदेशालय अपनी जांच में यह पता चलाएगा कि कहीं सुशांत के पैसे का दुरुपयोग तो नहीं किया गया है।

सुशांत के पिता का रिया पर ये आरोप

सुशांत के पिता का आरोप है कि रिया ने अपने करियर को बढ़ाने के मकसद से मई, 2019 में सुशांत के साथ दोस्ती बढ़ाई थी। वहीं अधिकारियों का कहना है कि ईडी सुशांत की रकम और उनके बैंक खातों के कथित दुरुपयोग के आरोपों की जांच करना चाहती है। ऐजंसी इस बात की भी जांच करेगी कि क्या किसी ने सुशांत के पैसों का इस्तेमाल ब्लैक मनी को वाइट में बदलने में किया और अवैध संपत्तियां बनाईं।

देवेंद्र फडणवीस ने की थी मांग

गौरतलब है कि सुशांत सिंह राजपूत के केस की सीबीआई से जांच कराए जाने की मांग तेज होती जा रही है। इस बीच महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने ट्वीट कर कहा था कि कम से कम प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को अपनी जांच मनी लॉन्ड्रिंग के ऐंगल से शुरू कर देनी चाहिए। उन्होंने सीबीआई जांच पर जनभावनाओं पर राज्य सरकार की अनदेखी की भी आलोचना की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *