सुशांत सिंह राजपूत को बॉम्बे हाई कोर्ट ने बताया अच्छा इंसान, कहा-चेहरे से ही मासूम थे

sushant-singh-rajput
sushant singh rajput
मुंबई (वेबवार्ता)। सुशांत सिंह राजपूत की बहनों के खिलाफ रिया चक्रवर्ती की एफआईआर को रद्द करने का फैसला बॉम्बे हाई कोर्ट ने सुरक्षित रखा है।

कोर्ट ने फैसला सुनाने से पहले सुशांत की तारीफ की और कहा के वह एक अच्छे इंसान थे। सुशांत की बहन प्रियंका, मीतू और एक डॉक्टर के खिलाफ रिया चक्रवर्ती ने एफआईआर दर्ज करवाई थी।

रिया का आरोप था कि सुशांत की बहनें बिना डॉक्टर की सलाह के उनको ऐंटी-डिप्रेसेंट दवाएं दे रही थीं। बहनों ने यह एफआईआर रद्द करने के लिए याचिका दायर की थी।

कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा है। बॉम्बे हाई कोर्ट ने कहा, सुशांत सोबर, मासूम और बहुत अच्छे इंसान थे। उनके चेहरे से ही पता चलता था कि वह इनोसेंट हैं।

सुशांत के फैमिली वकील विकास सिंह ने बताया, रिया की एफआईआर ‘काउंटर केस’ था क्योंकि वह खुद सीबीआई की जांच के घेरे में हैं।

उन्होंने बताया कि रिया तीन अलग-अलग कहानियां बता चुकी हैं। रिया यह भी मान चुकी हैं कि उन्होंने सुशांत को ब्लॉक किया था और उनके परेशान होने की वजह हो सकती हैं।