TikTok बैन का चीन पर असर, चाइनीज कंपनी को ₹45 हजार करोड़ का नुकसान

New Delhi: भारत में शॉर्ट विडियो मेकिंग ऐप टिकटॉक बैन (TikTok ban) किए जाने के बाद इसकी पैरंट कंपनी बाइटडांस को करोड़ों रुपये का नुकसान हो रहा है।

चाइनीज मीडिया ऑर्गनाइजेशन ग्लोबल टाइम्स की ओर से इस सप्ताह बताया गया कि टिकटॉक बैन (TikTok ban) के बाद बाइटडांस को 45 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का नुकसान हुआ है। रिपोर्ट में कहा गया है कि Helo और TikTok जैसे ऐप्स बैन किए जाने का असर बाइटडांस के बिजनस पर पड़ सकता है।

इंडस्ट्री रिपोर्ट्स के मुताबिक, चीन से बाहर भारत टिकटॉक (TikTok ban) का सबसे बड़ा मार्केट था। भारत सरकार की ओर से इस सप्ताह की शुरुआत में 59 चाइनीज ऐप्स को बैन करने का फैसला किया गया, जिनमें टिकटॉक भी शामिल है।

पब्लिकेशंस की मानें तो इसका असर चाइनीज ट्रेडर्स और इन्वेस्टर्स पर भी देखने को मिलेगा। एक्सपर्ट्स ने कहा, ‘भारत सरकार के इस फैसले के बाद चाइनीज निवेशकों और बिजनसेज को भी झटका लगा है।’

भारत में हिट था टिकटॉक

बाइटडांस को ऐप पर ऐड्स दिखाने और और तरीकों से जो रेवन्यू होता था, बैन के चलते वह भी जीरो हो गया है। कंपनी के ऐप्स और खासकर टिकटॉक भारत के छोटे-बड़े शहरों में तेजी से पॉप्युलर हो गया था।

आंकड़ों की मानें तो लॉन्च होने के बाद भारत में गूगल प्ले स्टोर से टिकटॉक को करीब 66 करोड़ बार डाउनलोड किया गया था। फिलहाल, ऐप को प्ले स्टोर और ऐप स्टोर से हटा दिया गया है और ऐक्सेस नहीं किया जा सकता।

डेटा सिक्यॉरिटी बनी वजह

भारत सरकार की ओर से चाइनीज ऐप्स पर बैन लगाने का फैसला देश के नागरिकों के डेटा की सिक्यॉरिटी को वजह बताते हुए लिया गया है। हालांकि, माना जा रहा है कि भारत-चीन सीमा पर देखने को मिले तनाव के चलते सरकार ने ऐसा किया है।

गलवान घाटी में हुए संघर्ष में 20 जवानों के शहीद होने के बाद से ही सोशल मीडिया पर भी चीन के प्रोडक्ट्स और ऐप्स का बायकॉट करने की मांग तेज हो गई है। साथ ही टिकटॉक के कई क्लोन ऐप्स अब वायरल हो रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *