PF Interest Rate: सैलरीवालों को EPFO ने दी बड़ी राहत, 8.5% के हिसाब से ही मिलता रहेगा ब्याज

Webvarta Desk: PF Interest Rate: ईपीएफओ (EPFO) के 6 करोड़ से भी अधिक सब्सक्राइबर्स (Subscribers) को बड़ी राहत मिली है।

EPFO के सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्‍टीज (Central Board of Trustee or CBT) ने वित्त वर्ष 2020-21 के लिए 8.5 फीसदी का ब्याज दर (PF Interest Rate) तय किया है। यह पिछले वर्ष के बराबर ही है। ऐसा कहा जा रहा था कि कोरोना की वजह से इस साल EPFO के ब्याज दर में कमी हो सकती है। लेकिन यह आशंका ही निकली।

श्रीनगर की बैठक में हुआ फैसला

केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष कुमार गंगवार (Santosh Kumar Gangwar) की अध्यक्षता में EPFO के सेंट्रल बोर्ड ट्रस्टी की बैठक आज श्रीनगर में हुई। इसमें इंटरेस्ट रेट (PF Interest Rate) पहले के लेवल पर बनाए रखने का फैसला किया गया। अब इस फैसले पर वित्त मंत्रालय के मुहर की दरकार है। उसके बाद ही इसे अधिसूचित किया जाएगा।

सबसे कम ब्याज

EPFO ने वित्त वर्ष 2019-20 में पीएफ की ब्याज दरों (PF Interest Rate) में कटौती कर इसे 8.5 फीसदी कर दिया था। अंशधारकों को दो किस्तों में 8.5 फीसदी के ब्याज का भुगतान करने की बात कही गई, जिसमें 8.15 फीसदी इन्वेस्टमेंट से और 0.35 फीसदी इक्विटी से किया गया था। इससे पहले वित्त वर्ष 2018-19 में ईपीएफ की ब्याज दर 8.65 प्रतिशत थी, वहीं 2017-18 में 8.55 प्रतिशत था। वहीं वित्तीय वर्ष 2016-17 में 8.8 फीसदी तय किया गया था।