जीएसटी को कर की भयावह दरों के साथ अधिसूचित किया गया : पी. चिदंबरम

p chidambaram

नई दिल्ली, 02 जून (वेबवार्ता)। कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने केंद्र सरकार पर जीएसटी को खराब कानून में बदलने का आरोप लगाया और कहा कि इसे कर की भयावह दरों के साथ अधिसूचित किया गया था। बुधवार को एक बयान में चिदंबरम ने कहा, जीएसटी एक अच्छे विचार के रूप में शुरू हुआ, भाजपा ने इसे एक बुरे कानून में बदल दिया। इसे कर की भयानक दरों के साथ अधिसूचित किया गया।

उन्होंने कहा कि कानून को इस तरह लागू किया गया था जैसे कर संग्रह करने वाले अधिकारी लोमड़ियों का शिकार कर रहे हों। प्रत्येक व्यवसायी को कर चोरी करने वालों के संदिग्ध रूप में देखा जाना लगा, जीएसटी परिषद को एक बात करने वाली दुकान में बदल दिया गया था। कांग्रेस के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और भूपेश बघेल ने जीओएम में कांग्रेस शासित राज्यों के सदस्यों को शामिल नहीं करने के लिए केंद्र की आलोचना की है।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंगलवार को कांग्रेस शासित राज्यों के सदस्यों को पैनल में शामिल नहीं करने को सहकारी संघवाद की भावना के खिलाफ करार दिया। उन्होंने कहा, वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) परिषद ने मंत्रियों के आठ सदस्यीय पैनल का गठन किया है, जिसमें कांग्रेस शासित राज्यों के किसी भी सदस्य को शामिल नहीं किया गया है। बघेल ने कहा, कांग्रेस शासित राज्यों के किसी भी सदस्य को शामिल नहीं करना दुर्भाग्यपूर्ण है और सहकारी संघवाद की भावना के खिलाफ है।