Google का बड़ा फैसला, अब 2GB से कम वाले फोन में नहीं मिलेगा Android 11 अपडेट

New Delhi: Google ने एक बड़ा फैसला लिया है। कंपनी 2GB रैम से कम के साथ लॉन्च होने वाले डिवाइसेज को Android 11 अपडेट नहीं देगी। गूगल ने ऐंड्रॉयड 11 (Google Android 11) की बीटा टेस्टिंग शुरू कर दी है।

XDA डिवेलपर्स और जीएसएम अरीना की रिपोर्ट के मुताबिक कंपनी की गूगल के डिवाइस कॉन्फिगरेशन गाइड की एक लीक कॉपी सामने आई है। इसके हिसाब से ऐंड्रॉयड 11 ओएस (Google Android 11) के लिए डिवाइस में कम से कम 2जीबी रैम होनी चाहिए। जिन डिवाइसेज में 2जीबी या उससे कम रैम होगी उन्हें ऐंड्रॉयड गो ओएस पर काम करना होगा।

इन डिवाइसेज को नहीं मिलेगी गूगल मोबाइल सर्विस

इतना ही नहीं, अब जो डिवाइस 512MB रैम के साथ आएंगे उन्हें प्रीलोडेड गूगल मोबाइल सर्विस भी नहीं मिलेगी। इसका सीधा मतलब यह हुआ कि गूगल ने एक तरह से इन डिवाइसेज के लिए सपॉर्ट बंद कर दिया है।

चौथी तिमाही से दिखेंगे बदलाव

ये सारे बदलाव इस साल की चौथी तिमाही से दिखने शुरू हो जाएंगे। इसी टाइम गूगल ऐंड्रॉयड 11 के स्टेबल अपडेट को सभी यूजर्स के लिए रोलआउट करेगा और कंपनियां भी तेजी से अपने डिवाइसेज तक अपडेट पहुंचाना शुरू करेंगी।

पहले लॉन्च हो चुके डिवाइसेज पर नहीं होगा असर

2जीबी रैम वाले जो डिवाइस पुराने ऐंड्रॉयड वर्जन के साथ लॉन्च हुए थे उन्हें इससे बाहर रखा गया है। अगर इन डिवाइसेज को कोई अपडेट मिलता है तो वह पूरा ऐंड्रॉयड ही होगा ताकि यूजर को कोई कन्फ्यूजन न हो। ऐंड्रॉयड गो की बात करें तो गूगल ने इसे अपने ओपन सोर्स ओएस के तौर पर लॉन्च किया था। इसमें ज्यादातर गूगल ऐप कम फीचर के साथ आते थे। हालांकि, उनके मेन फंक्शनिंग पर इसका कोई खास असर नहीं होता था।

बेहतर यूजर एक्सपीरियंस देने की कोशिश

इस बदलाव से साथ गूगल की कोशिश है कि वह इस बात को पक्का करे कि अब नॉर्मल हार्डवेयर के साथ लॉन्च होने वाले फोन्स में भी लाइट वर्जन के साथ बेहतर यूजर एक्सपीरियंस ऑफर किया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *