इन iPhone यूजर्स को मिलेंगे 1885 रुपये, जानें क्या है पूरा मामला

New Delhi: ऐपल विवादास्पद बैटरीगेट (Apple Batterygate) मामले को सुलझाने के लिए तैयार हो गया है। कंपनी इसके लिए अब उन यूजर्स को 25 डॉलर (करीब 1885 रुपये) देगी जिनके आईफोन को बिना कोई नोटिस दिए जानबूझ कर स्लो किया गया था।

कंपनी उन सभी यूजर्स को 25 डॉलर देगी जो इसके लिए क्लेम करेंगे। जीएसएम अरीना की एक रिपोर्ट के अनुसार इस मामले (Apple Batterygate) को निपटाने में ऐपल को 310 मिलियन डॉलर से 500 मिलियन डॉलर की बीच खर्च करने पड़ सकते हैं। यूजर्स को मिलने वाली पक्की राशि किए गए कुल क्लेम्स पर निर्भर करेगी।

इन आईफोन्स को मिलेगा कवर

सेटलमेंट के अनुसार पेआउट में ऐपल iPhone 6, 6 Plus, 6s, 6s Plus, 7, 7 Plus और iPhone SE डिवाइसेज को कवर करेगा। ये वे डिवाइस हैं जो iOS 10.2.1 या उससे बाद के ओएस या फिर 11.2 या इसके बाद आए iOS पर काम करते हैं।

6 अक्टूबर से पहले करना होगा क्लेम

क्लेम का फायदा उन्हीं यूजर्स को मिलेगा जिन्होंने ऊपर बताए गए आईफोन्स को 21 दिसंबर 2017 से पहले खरीदा होगा। क्लेम सबमिट करने के लिए एक डेडिकेटेड वेबसाइट का इस्तेमाल किया जा सकता है और यह प्रक्रिया ऑनलाइन के साथ मेल के जरिए भी की जा सकती। इन क्लेम्स को 6 अक्टूबर से पहले सबमिट करना होगा।

ऐपल ने मानी गलती

ऐपल ने साल 2017 में माना था कि उसके सॉफ्टवेयर अपडेट से उन आइफोन्स को स्लो किया गया था जिनकी बैटरी स्लो गई थी। ऐपल ने इस बारे में सफाई देते हुए कहा था कि उसे ऐसा आईफोन्स को अचानक शटडाउन होने से बचाने के लिए किया था।

कंपनी का मानना था कि इससे डिवाइस की बैटरी बचाई जा सकती है। इस सेटलमेंट के अलावा ऐपल पर फ्रेंच रेग्युलेटर्स ने 27 मिलियन डॉलर और इटली की एक जांच एजेंसी ने 5 मिलियन डॉलर का जुर्माना लगाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *