33.1 C
New Delhi
Saturday, October 1, 2022

Adani Transmission बनी देश की 10वीं सबसे बड़ी मूल्यवान कंपनी, LIC तक को पछाड़ा

वेबवार्ता: अडानी ट्रासंमिशन (Adani Transmission) देश के कई पुराने और जाने-माने कॉरपोरेट दिग्गजों को पछाड़ते हुए मार्केट वैल्यू के लिहाज से अब भारत की 10वीं सबसे बड़ी कंपनी बन गई है। अडानी ग्रुप की कंपनियों के शेयरों (Adani Group Stocks) में इस साल आई भारी उछाल का अडानी ट्रांसमिशन को फायदा मिला है।

Adani Transmission एक पावर यूटिलिटी कंपनी है। इस साल (2022) इसके शेयरों में अब तक करीब 125 फीसदी की उछाल आ चुकी है, जिसके चलते इसका मार्केट कैपिटलाइजेशन शुक्रवार को बढ़कर 4.4 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया। अडानी ट्रांसमिशन की मार्केट वैल्यू अब LIC (लाइफ इंश्योरेंस कॉरपोरेशन) से भी अधिक हो गई है, जो देश की सबसे बड़ी इंश्योरेंस कंपनी है। इसके अलावा इसके सिगरेट से लेकर बिस्किट और आटा बनाने वाली कंपनी आईटीसी को भी मार्केट वैल्यू के मामले में पीछे छोड़ दिया है।

सिर्फ अडानी ट्रांसमिशन (Adani Transmission) ही नहीं, बल्कि अडानी ग्रुप की शेयर बाजार में लिस्टेड सभी सातों कंपनियों के शेयरों में इस साल भारी उछाल देखी गई है। शेयरों में इजाफा का फायदा अडानी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडानी को भी मिला है, जिनकी संपत्ति में इस साल अब तक 64 अरब डॉलर का इजाफा हुआ है और वह दुनिया के तीसरे सबसे अमीर इंसान बन गए हैं।

अडानी ग्रुप (Adani Group) की कंपनियों के शेयरों में साल 2020 की शुरुआत से अब तक 10 गुना या 1,000 फीसदी से भी अधिक की तेजी आई है। इस बीच कई एनालिस्ट्स ने उनकी कंपनी पर कर्ज लेकर तेजी से विस्तार और डायवर्सिफिकेशन पर चिंता जताई है। हालांकि अडानी ग्रुप के शेयरों पर इसका कोई खास असर नहीं पड़ा है। गौतम अडानी की संपत्ति की कुल वैल्यू फिलहाल 141 अरब डॉलर से भी अधिक है।

अडानी ट्रांसमिशन के शेयरों में शुक्रवार 2 सितंबर को बढ़त के साथ कारोबार की शुरुआत हुई है और एक समय यह 1.2 फीसदी से भी अधिक बढ़कर 3,971 रुपये के स्तर तक चले गए थे। हालांकि दिन का कारोबार बढ़ने के साथ अडानी ट्रांसमिशन के शेयर अपनी बढ़त को बरकरार नहीं रख पाए और दोपहर 3 बजे खबर लिखे जाने के समय NSE पर यह 0.43 फीसदी गिरकर 3,863.75 रुपये के भाव पर कारोबार कर रहे थे।

अडानी ट्रांसमिशन के शेयरों में पिछले एक महीने में करीब 10 फीसदी से अधिक की तेजी आई है। वहीं साल 2022 की शुरुआत से अब तक यह निवेशकों को करीब 125 फीसदी का रिटर्न दे चुकी हैं। वहीं पिछले एक साल में इसके शेयरों में करीब 132 फीसदी की तेजी आई है। पिछले 5 सालों में अडानी ट्रांसमिशन ने अपने निवेशकों को 2,820% का तगड़ा रिटर्न दिया है।”

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

10,370FansLike
10,000FollowersFollow
1,124FollowersFollow

Latest Articles