देश के 4 बड़े बैंकों ने उठाए बड़े कदम, आपकी जेब पर पड़ेगा इसका सीधा असर

New Delhi: पिछले कुछ दिनों में तीन बड़े बैंकों ने अहम कदम (Bank Policies) उठाए हैं। इन बैंकों ने ऐसे फैसले लिए हैं, जिनसे देश भर के करोड़ों ग्राहक प्रभावित होंगे। ये फैसले सीधे उनकी जेब पर असर डालने वाले हैं।

ये बैंक हैं बैंक ऑफ बड़ौदा, आईसीआईसीआई बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक, एचडीएफसी बैंक। किसी ने कर्ज सस्ता बना दिया है, तो किसी ने महंगा। किसी ने कर्ज की प्रक्रिया आसान कर दी है, तो किसी ने मुश्किल। यहां तक कि एक बैंक ने तो एफडी की ब्याज दरों पर ही कैंची चला दी है। आइए एक-एक कर के जानते हैं, इन बैंकों के फैसलों (Bank Policies) के बारे में।

1- बैंक ऑफ बड़ौदा ने बढ़ाया प्रीमियम रिस्क

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ऑफ बड़ौदा ने नए ग्राहकों के लिए कर्ज पर रिस्क प्रीमियम बढ़ा दिया (Bank Policies) है। यानी सीधे-सीधे कहें तो अब बैंक ऑफ बड़ौदा से नए ग्राहकों के लिए लोन लेना महंगा हो गया है। बैंक ने अच्छे क्रेडिट स्कोर वालों के लिए कर्ज को सस्ता भी बना दिया है। यानी कि आपका जितना अच्छा क्रेडिट स्कोर, उतने ही कम ब्याज पर कर्ज मिलने का मौका।

2- आईसीआईसीआई बैंक सैटेलाइट से देख रहा है खेत

निजी क्षेत्र के बैंक आईसीआईसीआई ने किसानों को कर्ज देने का एक अनोखा कदम उठाया है। अनोखा इसलिए क्योंकि बैंक सैटेलाइट से ली गई किसानों के खेतों की तस्वीरों का आंकलन करने के बाद उन्हें लोन देने की पेशकश कर रहा है। बैंक का मानना है कि इससे किसानों की सही आर्थिक स्थिति का अंदाजा मिलता है और लोन को मंजूरी मिलने में वक्त भी कम लगता है।

3- कोटक महिंद्रा बैंक दे रहा बिना कार्ड पैसा निकालने की सुविधा

अगर आपसे कहें कि बिना डेबिट कार्ड के भी पैसे निकल सकते हैं तो आप यकीन नहीं करेंगे, लेकिन कोटक महिंद्र बैंक ने इसे सच कर दिखाया है। इसके एटीएम से पैसे निकालने के लिए आपको डेबिट कार्ड की जरूरत नहीं होगी। यह बैंक कार्डलेस नकदी की सुविधा दे रहा है। इसके लिए नेटबैंकिंग के जरिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया करनी होगी और फिर एक कोड जनरेट होगा, जिसके बाद किसी भी एटीएम से बिना डेबिट कार्ड के पैसे निकाले जा सकेंगे।

4- एचडीएफसी बैंक ने एफडी पर घटाई ब्याज दरें

एचडीएफसी बैंक ने चुनिंदा अवधि के फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट (एफडी) पर ब्याज दरें घटा दी हैं। इनमें आधा फीसदी तक की कटौती की गई है। बैंक की नई ब्‍याज दरें 25 अगस्‍त से लागू हो गई हैं। बैंक ने 91 दिन से 6 महीने में मैच्‍योर होने वाले डिपॉजिट पर रेट में सबसे बड़ी कैंची चलाई है। इन्‍हें आधा फीसदी तक कम किया गया है। इन पर ब्‍याज घटकर 3.5 फीसदी रह गया है। बदलाव के बाद एचडीएफसी बैंक 7 दिन से 29 दिन के डिपॉजिट पर 2.50 फीसदी ब्‍याज ऑफर कर रहा है। 30-90 दिन में मैच्‍योर होने वाले डिपॉजिट पर यह रेट 3 फीसदी है।

9 महीने एक दिन से लेकर एक साल में मैच्‍योर होने वाले डिपॉजिट पर ब्‍याज दरों में 0.10 फीसदी की कटौती की गई है। अब इन पर 4.4 फीसदी ब्‍याज मिलेगा। एक से दो साल में मैच्‍योर होने वाले टर्म डिपॉजिट पर 5.10 फीसदी की दर से ब्‍याज ऑफर किया जाएगा। बैंक ने दो से पांच साल के लंबी अवधि के डिपॉजिट पर भी ब्‍याज दरों में कमी की है। दो साल से 3 साल में मैच्‍योर होने वाले फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट पर 5.15 फीसदी की दर से ब्‍याज मिलेगा। तीन से पांच साल की अवधि के लिए यह 5.30 फीसदी होगा। 5 से 10 साल में मैच्‍योर होने वाले डिपॉजिट पर बैंक 5.50 फीसदी ब्‍याज देगा।