वर्ष 2023-24 तक पेट्रोल के साथ 20 प्रतिशत एथेनॉल-मिश्रण : गोयल

Piyush Goyal

नई दिल्ली, 16 जुलाई (वेबवार्ता)। वाणिज्य और उद्योग मंत्री पियूष गोयल ने शुक्रवार को कहा कि भारत ने वर्ष 2023-24 तक पेट्रोल के साथ 20 प्रतिशत एथेनॉल-मिश्रण का लक्ष्य रखा है और अंतिम लक्ष्य 100 प्रतिशत इथेनॉल से चलने वाले वाहन हैं। उन्होंने कहा कि अधिक प्रगति करने के मकसद से टिकाऊ मिशन और नवीकरणीय ऊर्जा और अधिक प्रगति के लिए बैटरी प्रौद्योगिकियां बहुत महत्वपूर्ण होने जा रही हैं और इसके लिए देश अब बैटरी पर भारी मात्रा में निवेश कर रहा है।

उन्होंने भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) के आत्मानिर्भर भारत सम्मेलन और प्रदर्शनी में कहा, ‘‘वर्ष 2023-24 तक, भारत हमारे पेट्रोल के उत्पादों में इथेनॉल का 20 प्रतिशत सम्मिश्रण करने जा रहा है। हमारा अंतिम लक्ष्य ऐसे वाहन भी हैं जो 100 प्रतिशत इथेनॉल तक का इस्तेमाल कर सकते हैं।’’

मंत्री ने कहा कि इलेक्ट्रिक कार उपयोगकर्ताओं को दिन के समय अक्षय ऊर्जा या सौर ऊर्जा का उपयोग करके अपनी बैटरी रिचार्ज करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा, जिसके लिए ‘‘हम देश भर में गैस स्टेशनों पर चार्जिंग स्टेशनों को लगाने के बारे में सोच रहे हैं।’’ गोयल ने कहा कि वर्ष 2022 तक 175 गीगावॉट (1.75 लाख मेगावाट) के कुल नवीकरणीय ऊर्जा लक्ष्य प्राप्ति के लक्ष्य के भारत अब वर्ष 2030 तक 450 गीगावॉट क्षमता हासिल करने की ओर ध्यान दे रहा है।