15.1 C
New Delhi
Thursday, December 8, 2022

सरकार पेट्रोल-डीजल की कीमत में 2.5 रुपए तक देगी बढ़ी राहत

MP Petrol-Diesel Price 2022 News in Hindi : वेब वार्ता, नई दिल्ली. आगामी कई राज्यों के चुनाव से पहले पेट्रोल-डीजल की कीमतों (Petrol-Diesel Price) में कमी के आसार बन गए हैं. इसकी वजह है कि अंतरराष्ट्रीय मार्केट में काफी समय से कच्चे तेल की कीमतों में नरमी बनी हुई है. ऐसे में इंडियन ऑयल, BPCL-HPCL जैसी तेल मार्केटिंग कंपनियों को पेट्रोल-डीजल को बेचने में फायदा हो रहा है.

वैसे तो इन कंपनियों ने लंबे समय तक दाम स्थिर रखे हैं, जिसकी वजह से इन्हें भारी घाटा भी हुआ है. लेकिन अब पेट्रोल-डीजल की बिक्री पर हो रहे फायदे का कुछ हिस्सा ये जनता को भी दे सकती हैं.

कितना सस्ता होगा पेट्रोल-डीजल?

पेट्रोल पर इस वक्त कंपनियों को करीब 6 रुपये प्रति लीटर का सरप्लस मिल रहा है. ऐसे में कंपनियों के लिए दाम घटाना मुमकिन है. अब पिछले नुकसान की भरपाई के लिए ऑयल मार्केटिंग कंपनियां पूरा फायदा तो ग्राहकों को देने से रहीं लेकिन इसका कुछ अंश वो जरूर आम आदमी को राहत देने के लिए कम कर सकती हैं. हिमाचल और गुजरात में चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद कीमतों में कटौती के कयास बढ़ गए हैं. अनुमान है कि पेट्रोल और डीजल की कीमतों पर तेल मार्केटिंग कंपनिया ढाई रुपये प्रति लीटर तक की राहत लोगों को दे सकती हैं

रूस के सस्ते तेल ने दिया मौका

भारत ने इस साल रूस से कच्चे तेल का आयात काफी बढ़ाया है. रूस-यूक्रेन युद्ध के पहले जहां भारत के कुल क्रूड आयात में रूस की हिस्सेदारी 2 फीसदी भी नहीं थी. वहीं अब ये 20 फीसदी के करीब पहुंच गई है. पिछले महीने पहली बार रूस भारत को कच्चा तेल सप्लाई करने वाले देशों की लिस्ट में इराक और सऊदी अरब जैसे पारंपरिक सप्लायर्स को पीछे छोड़कर पहले नंबर पर आ गया. इसकी वजह है कि भारत को अंतरराष्ट्रीय कीमतों के मुकाबले रूस से बेहद कम कीमत पर कच्चा तेल मिल रहा है.

इंटरनेशनल मार्केट में Petrol-Diesel रेट

इंटरनेशनल मार्केट में जहां क्रूड 100 डॉलर प्रति बैरल पर मिल रहा है. वहीं रूस से 25 डॉलर प्रति बैरल तक पर भारत को कच्चा तेल मिल रहा है. हालांकि, कुछ रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि पश्चिमी देशों के प्रतिबंधों की वजह से रूस ने अपने कच्चे तेल का दाम घटाकर 18 से 25 डॉलर प्रति बैरल तक कम कर दिया है. इसके अलावा कुछ और देशों से भारत को कम या ज्यादा डिस्काउंट पर क्रूड आयात करने का मौका मिल जाता है.

इराक पर बढ़ा दबाव

रूस से आयात बढ़ने से इराक पर भी दबाव बढ़ा है, जिसकी वजह से हाल ही में इराक ने अपने क्रूड ऑयल का दाम भारत के लिए काफी घटाया है. कुछ वैरायटी का कच्चा तेल तो वो रूस से भी कम कीमत पर भारत को दे रहा है. इस सबकी वजह से अंतरराष्ट्रीय बाजार में 100 डॉलर प्रति बैरल पर मिलने वाला कच्चा तेल भारत को 75 से 80 डॉलर प्रति बैरल के औसत दाम मे मिलता है.

Petrol Diesel Price in New Delhi – last 7 Changes | Recent Price Revisions

Date Petrol Price / Litre Change Diesel Price / Litre Change
22-May-22 ₹ 96.72 ₹ -8.69 ₹ 89.62 ₹ -7.05
6-Apr-22 ₹ 105.41 ₹ 0.8 ₹ 96.67 ₹ 0.8
5-Apr-22 ₹ 104.61 ₹ 0.8 ₹ 95.87 ₹ 0.8
4-Apr-22 ₹ 103.81 ₹ 0.4 ₹ 95.07 ₹ 0.4
3-Apr-22 ₹ 103.41 ₹ 0.8 ₹ 94.67 ₹ 0.8
2-Apr-22 ₹ 102.61 ₹ 0.8 ₹ 93.87 ₹ 0.8
31-Mar-22 ₹ 101.81 ₹ 0.8 ₹ 93.07 ₹ 0.8
30-Mar-22 ₹ 101.01 ₹ 0 ₹ 92.27 ₹ 0

जानिए आपके शहर में कितना है दाम

पेट्रोल-डीजल की कीमत आप SMS के जरिए भी जान सकते हैं (How to check diesel petrol price daily)। इंडियन ऑयल के कस्टमर वेबसाइट पर जाकर RSP और अपने शहर का कोड लिखकर 9224992249 नंबर पर भेजना होगा। BPCL उपभोक्ता RSP लिखकर 9223112222 नंबर पर भेज जानकारी हासिल कर सकते हैं। हर शहर का कोड अलग-अलग होता है, जो आपको IOCL की website से मिल जाएगा।

जाने एक्साइज ड्यूटी (Excise Duty), डीलर कमीशन (Dealer Commission) क्या होता है

डीजल पेट्रोल का रोज का रेट आप SMS के जरिए भी जान सकते हैं. इंडियन ऑयल के कस्टमर RSP लिखकर 9224992249 नंबर पर और बीपीसीएल उपभोक्ता RSP लिखकर 9223112222 नंबर पर भेज जानकारी हासिल कर सकते हैं. वहीं, एचपीसीएल उपभोक्ता HPPrice लिखकर 9222201122 नंबर पर भेजकर भाव पता कर सकते हैं.

बता दें कि प्रतिदिन सुबह छह बजे पेट्रोल-डीजल (Petroal-Diesal) की कीमतों में बदलाव होता है। सुबह छह बजे से ही नई दरें लागू हो जाती हैं। पेट्रोल व डीजल के दाम में एक्साइज ड्यूटी (Excise Duty), डीलर कमीशन (Dealer Commission) और अन्य चीजें जोड़ने के बाद इसका दाम लगभग दोगुना हो जाता है।

इन्हीं मानकों के आधार पर पर पेट्रोल रेट और डीजल रेट रोज तय करने का काम तेल कंपनियां करती हैं। डीलर पेट्रोल पंप चलाने वाले लोग हैं। वे खुद को खुदरा कीमतों पर उपभोक्ताओं के अंत में करों और अपने स्वयं के मार्जिन जोड़ने के बाद पेट्रोल बेचते हैं। पेट्रोल रेट और डीजल रेट में यह कॉस्ट भी जुड़ती है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

10,370FansLike
10,000FollowersFollow
1,120FollowersFollow

Latest Articles