C
New Delhi, IN
Monday, July 16, 2018

बालपन

बाल कथा: कठिनाइयों से निकलता है रास्ता…

-अमृता गोस्वामी- चिंटू अपने माता-पिता का इकलौता बेटा था। घर पर उसके लाड़-प्यार में कोई कमी नहीं रखी गई थी, उसकी हर फरमाइश को उसके...

प्रेरक कहानी : आप कितना उड़ेंगे?

 एक बार की बात है कि एक अदमी गुब्बारे बेचकर अपना घर चलाता था। वह अपने नगर के आस-पास जाकर गुब्बारे बेचता था। बच्चों...

बाल कथा : लालची पुत्र

-नरेंद्र देवांगन- दौलत राम एक गरीब ब्राह्मण था। एक बार वह गर्मी के दिनों में एक घने वृक्ष की छाया में सो रहा था। अचानक...

नकली अंगूठी (बाल कहानी)

-नरेन्द्र देवांगन- किसी गांव में दो ठग रहते थे। एक का नाम था कालू और दूसरे का चालू। पूरे गांव में बदनाम थे दोनों। गांव...

घिर गया बंटा

-संजीव ठाकुर- बंटा की शरारतें बढ़ती जा रही थीं। आज तो उसने सभी हदें पार कर दीं। किसी को नाली में धकेल देना, किसी की साइकिल...

कभी शैतानी न करने वाला लड़का (बाल साहित्य)

-अलका सरावगी- गोलू के बारे में बचपन से लेकर आज तक किसी ने कोई ऐसी कहानी नहीं सुनी थी जिसमें उसकी कोई शैतानी की बात...

सोहा को मिली सीख (बाल कहानी)

सोहा को एग्जाम के दिनों में देर रात तक पढ़ने की आदत थी। गणित का पेपर देखकर वह काफी खुश हुई। उसे सारे सवाल...

सुरीला सफर

साक्षी गुनगुना रही थी। तभी उसकी सहेली शिखा ने उसे टोकते हुए कहा-तुम सही सुर-ताल के साथ गाना नहीं गा रही हो। अगर तुम्हें...

कौआ और सांप (कहानी)

सुदूर क्षेत्र में स्थित एक जंगल में एक पेड़ पर एक कौआ रहता था। उसे ऐसा दुख था जिससे वह छुटकारानहीं पा रहा था।...

एक अच्छा बेटा और एक बुरा बेटा

जरा कैन और हाबिल को देखिए। वे अब बड़े हो गए हैं। कैन एक किसान बन गया है। वह फल-सब्जी और अनाज की खेती...