प्रकाश की मौत के बाद सरकार ने परिवार से किया छलावा

0
28

नैनीताल, 11 जनवरी (जसवंत पुरी)। प्रकाश पाण्डे हल्द्वानी शहर मे ट्रांसपोर्ट का कारोबार करते थे। जिन्होने मंत्री के जनता दरबार में कारोबार में हो रहे घाटे के चलते जहर गटक लिया जिस कारण उनकी मृत्यु हुयी। व्यापारियों ने शहर बन्द कर विरोध जताया और जिलाधिकारी से कहा कि प्रकाश ने कई महिने पहले सरकार व मुख्यमंत्री से लेकर प्रधान मंत्री तक गुहार लगायी। नोट बन्दी व जीएसटी के चलते कारोबार चैपट होने से बुरे हालात से जूझता रहा और हालात पर काबू पाने के लिये कोशिश भी की लेकिन कही से मदद नहीं मिलने के कारण उसने जहर खा कर अपनी जान दी।

जिलाधिकारी ने मृतक के परिवार को 10 लाख रूपये की आर्थिक सहायता के साथ विधवा पत्नी को संविदा में नौकरी देने का भरोसा दिया लेकिन बाद में सरकार मुकर गयी जब कि डीएम ने अधिकारिक तौर पर मीडिया को बयान दिये जिसके बाद ही परिजनो ने शव का अंतिम संस्कार के लिये उठाया। मुख्यमंत्री के मीडिया कार्डिनेटर दर्शन सिंह रावत ने मृतक परिवार को आर्थिक सहायता 10 लाख रूपये व विधवा पत्नी की नौकरी देने वाले फैसले से इनकार किया उन्होंने कहा कि ऐसे मामलो में सहायता देने का कोई प्रावधान नही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here