कलबुर्गी हत्या मामलें में एनआईए, सीबीआई, कर्नाटक, महाराष्ट्र सरकार को नोटिस जारी

0
18

नई दिल्ली, 10 जनवरी (वेबवार्ता)। उच्चतम न्यायालय ने जाने-माने लेखक और तर्कवादी एमएम कलबुर्गी की हत्या की एसआईटी जांच की मांग करने वाली याचिका पर जांच एजेंसियों एनआईए तथा सीबीआई और महाराष्ट्र तथा कर्नाटक राज्य की सरकारों को नोटिस जारी किया तथा छह सप्ताह के भीतर जवाब देने को कहा। कलबुर्गी की वर्ष 2015 में हत्या कर दी गई थी।

प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा और न्यायमूर्ति एएम खानविलकर तथा न्यायमूर्ति डीवाई चंद्रचूड़ की पीठ ने लेखक की पत्नी उमा देवी कलबुर्गी की याचिका पर जांच एजेंसियों तथा दोनों राज्यों की सरकारों से इस पर छह सप्ताह के भीतर जवाब देने को कहा। कलबुर्गी की पत्नी की ओर से दायर याचिका में आरोप लगाया गया है कि उनके पति की हत्या के मामले में अब तक कोई ठोस जांच नहीं की गई है।

हम्पी विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति और जाने-माने विद्वान तथा पुरालेखवेत्ता कलबुर्गी की 30 अगस्त 2015 को कर्नाटक के धारवाड़ में कल्याण नगर स्थित उनके आवास पर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। वह 77 वर्ष के थे। कलबुर्गी साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित कन्नड़ साहित्यकार थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here