सीएम खट्‌टर ने शहीद मोनू के परिजनों को सांत्वना दी, हरसंभव सहायता का आश्वासन

0
42

रोहतक, 08 फरवरी (वेबवार्ता)। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि देश के जाबांज सैनिक सीमाओं की सुरक्षा करने के साथ-साथ दुश्मन को नाको चने चबाने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि यदि दुश्मन हमारे देश के दो सैनिकों का नुकसान करता है तो हमारी सेना 20 का नुकसान पहुंचाने में सक्षम है।

मुख्यमंत्री ने आज रोहतक में शहीद मोनू के पैतृक गांव बसाना में पहुंचकर शोक व्यक्त किया और परिवार को सांत्वना दी। उन्होंने शहीद के पिता सुरजन सिंह व बड़े भाई सोनू से बातचीत करते हुए कहा कि देश की जनसंख्या का मात्र दो प्रतिशत हिस्सा हरियाणा का है जबकि सेना में 10 प्रतिशत युवा भर्ती होकर राष्ट्र की सेवा कर रहे है। मुख्यमंत्री ने कहा कि शहीद मोनू के परिवार को भी हरियाणा सरकार की नीति अनुसार हर संभव सहायता उपलब्ध करवाई जायेगी। उन्होंने कहा शहीद मोनू को सदैव याद रखा जायेगा।

उन्होंने कहा कि शहीद मोनू घायल होने के बाद आर्मी हॉस्पीटल में भर्ती था उस दौरान चिकित्सकों ने उसे बचाने का प्रयास किया लेकिन कामयाबी नहीं मिली। इसका उन्हें गहरा अफसोस है। उन्होंने कहा कि सैनिकों में देश सेवा के प्रति जज्बा होता है। सेना में भर्ती होने के बाद वे देश सेवा को सर्वोपरि मानते हुए स्वयं को समर्पित भाव से देश की सेवा करने के लिए हर समय तैयार रहते है। उन्होंने कहा कि कारगिल युद्ध में भी प्रदेश के अनेक सैनिकों को शहादत देनी पड़ी थी। अब छदम युद्ध के दौरान शहीद हुए 28 में से 16 सैनिक हरियाणा के थे। ऐसे शहीदों एवं उनके परिवारों को उनका शत्-शत् नमन एवं प्रणाम है।

मुख्यमंत्री ने शहीद के बड़े भाई मोनू को अपने माता-पिता की सेवा करने का अनुरोध करते हुए कहा कि माता पिता की सेवा भी देश सेवा के साथ-साथ सर्वोपरि है। उन्होंने पिता सुरजन सिंह का ढांढस बंधाते हुए कहा कि धैर्य व हिम्मत से काम लेना है, शोक की इस घड़ी में सरकार उनके साथ है। उन्होंने शहीद की माता एवं धर्मपत्नी रेनू का भी ढांढस बंधाया। शहीद मोनू 25 जनवरी को कुपवाडा में बेस कैम्प पर हुए हमले में घायल हुआ था। तब से आर्मी हॉस्पीटल में उनका इलाज चल रहा था। इलाज के दौरान उनका 4 जनवरी को निधन हो गया। उनके पैतृक गांव में 5 जनवरी को राजकीय व सैनिक सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया।

शोक व्यक्त करने वालों में सहकारिता मंत्री मनीष कुमार ग्रोवर, उपायुक्त डॉ. यश गर्ग, पुलिस अधीक्षक पंकज नैन, एसडीएम अरविंद मल्हाण, सीटीएम महेंद्रपाल, अनुसूचितजाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष रामअवतार बाल्मीकि, रमेश भाटिया, गुलशन दुआ, राजकुमार कपूर, सतीश शर्मा, तरूण सन्नी शर्मा सहित कई पार्टी पदाधिकारी शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here