राज्यसभा चुनाव: आप में फिर उठी बाहरी को राज्यसभा भेजने की मांग

0
111

नई दिल्ली, 01 जनवरी (वेबवार्ता)। दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) में राज्यसभा (उच्चसदन) की तीन सीटों पर तकरार फिलहाल थमती नजर नहीं आ रही। हालांकि पार्टी सूत्रों के अनुसार केन्द्रीय नेतृत्व ने संजय सिंह के नाम पर आखिरी मोहर लगा दी है। वहीं अन्य दो सीटों पर पार्टी के एक धड़े ने फिर से बाहर के व्यक्तियों को भेजने की मांग रखी है ताकि पार्टी में असंतोष को खत्म किया जा सके।

सूत्र के अनुसार, राजधानी के लोकप्रिय वकील और एक पूर्व बैंकर के नाम संभावित उम्मीदवारों में शामिल किए गए हैं। चांदनी चौक से आप विधायक अलका लांबा ने उच्च सदन में किसी महिला को भेजे जाने की मांग करते हुए पूर्व बैंकर मीरा सान्याल का समर्थन किया है। अलका लांबा ने ट्वीट कर कहा, वह (सान्याल) एक पूर्व बैंकर हैं और अर्थव्यवस्था की विशेषज्ञ हैं। उनका राज्यसभा में होना मेरी पार्टी के साथ-साथ देश के लिए भी बहुत जरूरी है।

दूसरी ओर, लम्बे समय से उम्मीद लगाए बैठे डॉ कुमार विश्वास को पार्टी प्रमुख अरविन्द केजरीवाल के साथ हुए मतभेदों की वजह से अब उनका राज्यसभा में जाना मुश्किल है। विश्वास के नाम पर आम सहमति नहीं बनने का कारण उन पर ज्यादातर पार्टी नेताओं का अविश्वास बताया जा रहा है। हाल ही में 29 दिसम्बर को कुमार विश्वास के समर्थकों ने पार्टी मुख्यालय पर धरना देकर उन्हें राज्यसभा में भेजे जाने की मांग की थी। इस पर आप प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने दावा किया था कि पार्टी मुख्यालय में डेरा डालने वालों में 80 प्रतिशत भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्ता थे। उल्लेखनीय है कि तीन राज्यसभा सीटों के लिए 16 जनवरी को चुनाव होने हैं।

वहीं पार्टी के दोनों वरिष्ठ नेता आप संयोजक एवं मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया फिलहाल सपरिवार अण्डमान-निकोबार में नववर्ष की छुट्टियां मनाने में व्यस्त है। इसके चलते तीनों सीटों की आधिकारिक घोषणा आगामी तीन दिनों में होगी। राज्यसभा प्रत्याशियों के नामों पर अंतिम फैसला आप की राजनीतिक मामलों की समिति (पीएसी) की बैठक में ही होगा। इसके बाद ही इसकी आधिकारिक घोषणा होगी की कौन तीन व्यक्ति पार्टी की तरफ से उच्च सदन में जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here