दिल्ली में इंजीनियरिंग का छात्र बनकर रह रहा था आईएस का खूंखार आतंकी

0
30

नई दिल्ली, 12 जुलाई (वेबवार्ता)। भारतीय खुफिया एजेंसियों ने आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आइएस) की एक बड़ी साजिश को नाकाम कर दिया है। 18 महीने तक नजर रखने के बाद एक आतंकी को सितंबर 2017 में दिल्ली से गिरफ्तार किया गया था, लेकिन शीर्ष राजनयिक और खुफिया सूत्रों ने इसकी पुष्टि अब की है।

आइएस ने दिल्ली में धमाके कराने की साजिश के तहत अफगानिस्तान के इस आत्मघाती हमलावर को यहां भेजा था और उसने दिल्ली की सीमा से लगे एक इंजीनियरिंग कॉलेज में दाखिला लिया था। एजेंसियां अब आइएस के अन्य गुर्गे की तलाश में जुट गई है।

शुरुआत में वह निजी कॉलेज के हॉस्टल में रहा था। बाद में लाजपत नगर स्थित एक फ्लैट में रहने लगा। गिरफ्तारी के बाद उसे अफगानिस्तान ले जाकर अमेरिकी सैन्य बेस को सौंप दिया गया। माना जा रहा है कि पिछले दिनों अफगानिस्तान में तालिबान के खिलाफ अमेरिकी सेना को जो बड़ी सफलताएं मिली हैं, उसके पीछे इस हमलावर से मिली जानकारियां हैं।

खुफिया विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि अफगानिस्तान, दुबई, नई दिल्ली में हो रही आइएस के लोगों की बातचीत पर नजर रखी जा रही थी। इस दौरान आइएस द्वारा प्रशिक्षित 12 आत्मघाती हमलावरों को पाकिस्तान में ट्रेनिंग देने के बाद भारत में प्रवेश कराने की सूचना मिलने के बाद से एजेंसियां सतर्क थीं। अफगान हमलावर आइजीआइ एयरपोर्ट, अंसल प्लाजा, वसंत कुंज मॉल सहित साउथ एक्सटेंशन बाजार में हमला करने के लिए रेकी कर चुका था।

15 अगस्त के दिन स्वतंत्रता दिवस के मौके पर इस बार दिल्ली पुलिस एक महीने पहले ही अलर्ट हो गई है। आतंकियों के खतरे को देखते हुए 15 पर दिल्ली पुलिस ने विशेष सुरक्षा प्रबंध करना शुरू कर दिया है। खासकर भीड़भाड़ वाले इलाके हमेशा से ही आतंकियों के निशाने पर रहे हैं। इसके मद्देनजर भीड़भाड़ वाले बाजारों में दिल्ली पुलिस द्वारा सुरक्षा को लेकर खास प्रबंध किए जा रहे हैं।

सुरक्षा बढ़ाने की कड़ी में करोल बाग में मचानों पर दिल्ली पुलिस के कमांडो को तैनात कर दिया गया है। इसके साथ ही दिल्ली पुलिस और बम डिटेक्शन टीम बाजारों में तलाशी अभियान चला रही है।

वहीं, आम लोगों और कारोबारियों को भी हिदायत दी जा रही है कि कोई संदिग्ध व्यक्ति या सामान दिखे तो इसकी सूचना तुरंत पुलिस को दें। बाजारों में आने वाली गाड़ियों को भी चेक किया जा रहा है। इतना ही नहीं, लाउड स्पीकर से एलान कर लोगों से जागरूक रहने की अपील की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here